ऑफ द रिकॉर्डः राहुल ने रद्द की पायलट की लिस्ट

राजस्थान के कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट को उस समय गहरा झटका लगा जब कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आगामी चुनावों के लिए तैयार की गई 150 उम्मीदवारों की सूची को नकार दिया। पायलट की इस सूची में 150 उम्मीदवारों के अतिरिक्त किसी दूसरे दावेदार का नाम नहीं था जबकि उन्हें निर्देश दिया गया था कि हर सीट पर 3 उम्मीदवारों के नाम सूची में शामिल किए जाएं। पायलट को विश्वास था कि वह गांधी खानदान से नजदीकी के चलते सभी 150 उम्मीदवारों को हरी झंडी दिला देंगे लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

पायलट को राहुल ने राज्य अध्यक्ष बनाया था। एक समय तो यह अफवाह उड़ी कि राज्य में कांग्रेस सरकार आने के बाद पायलट ही सी.एम. की कमान संभालेंगे लेकिन इसके लिए यह जरूरी है कि सी.एम. की कुर्सी के तलबगार के पास विधायकों की लंबी-चौड़ी फौज हो इसलिए पायलट ज्यादा से ज्यादा अपने बंदों को टिकट दिलाना चाहते हैं लेकिन किसी कारणवश राहुल ने उनकी सूची रद्द कर दी।

उन्होंने पायलट को साफ कहा कि दोबारा सूची तैयार करो जिसमें हर विधानसभा से 3 लोगों के नाम हों। इस बात का भी पता चला है कि टिकट वितरण को लेकर कुमारी शैलजा से उनकी अनबन पर भी राहुल नाराज थे। उल्लेखनीय है कि कुमारी शैलजा राजस्थान की प्रमुख हैं। अभी तक तो यह भी साफ नहीं है कि सी.पी. जोशी को भी टिकट मिलेगा या नहीं। इसी तरह का विवाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस में सिंधिया और कमलनाथ के बीच है।