कश्मीर: त्राल में मुठभेड़ के बाद जनजीवन प्रभावित

जम्मू-कश्मीर में पुलवामा जिले के त्राल इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद (जैश) के प्रमुख मसूद अजहर के भतीजे सहित दो आतंकवादियों के मारे जाने के बाद बुधवार को त्राल और उसके आस-पास के इलाकों में जनजीवन प्रभावित रहा।  प्रशासन ने पुलवामा में त्राल के संवेदनशील इलाकों में किसी भी प्रकार के विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए एहतियातन पाबंदियां लागू कर दीं।  अलगाववादियों की ओर से हालांकि किसी भी प्रकार की हड़ताल का आह्वान नहीं किया गया था, इसके बावजूद त्राल और उसके आस-पास के इलाकों में दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे। इसके अलावा सडक़ों से वाहन भी नदारद रहे।

त्राल के संवेदनशील इलाकों में पाबंदियों को लागू करने के लिए अतिरिक्त सुरक्षाबलों को तैनात किया गया। लोगों को आज सुबह से ही घरों में रहने के निर्देश दिए गए।  इस दौरान त्राल में सरकारी कार्यालय और बैंक भी बंद रहे। तनाव की स्थिति होने के कारण शैक्षणिक संस्थान भी वीरान पड़े रहे।  इससे पहले राज्य के पुलवामा जिले में मंगलवार को घेराबंदी और तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में जैश-ए-मोहमद (जैश) के प्रमुख मसूद अजहर के भतीजे सहित दो आतंकवादी मारे गये।