कारगिल से गुरेज तक बनेगा नया राजमार्ग, राजनाथ सिंह ने की घोषणा

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्य में विभिन्न विकास कदमों के कार्यान्वयन की समीक्षा हेतु आज एक उच्च स्तरीय बैठक में यह घोशणा की कि जम्मू-कश्मीर में कारगिल से गुरेज तक सीमा के साथ नये राजमार्ग का निर्माण किया जाएगा। केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि सडक़ परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय से लददाख के कारगिल से शुरू होकर माछिल, केरण और टंगदार से होते हुए बांडीपुरा जिला में गुरेज तक नये राजमार्ग के लिए डीपीआर तैयार करने के लिए कहा गया है।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने प्रधानमंत्री विकास कार्यक्रम के तहत लागू की जा रही परियोजनाओं, डल झील संरक्षण कार्यक्रम, राज्य में भारतीय रिजर्व पुलिस के 5 नये बटालियन की स्थापना, हिमायत, उड़ान तथा प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत स्थानीय युवाओं की कौषल विकास की प्रगति,  जम्मू व कष्मीर के छात्रों के लिए प्रधानमंत्री विषेश छात्रवृति योजना, खेल ढांचों के निर्माण तथा शैक्षशिक आदान प्रदान कार्यक्रमों की विस्तृत जानकारी भी ली।

राजनाथ सिंह ने पाक अधिकृत जम्मू-कमीर तथा पश्चिमी पाकिस्तान रिफूजियों के लिए राहत वितरण, पीएमडीपी, बीएडीपी, के तहत विस्थापितों के लिए रोजगार पैकेज तथा अंतर्राष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर बंकरों के निर्माण की प्रगति की समीक्षा भी की। उन्होंने लददाख के विकास मुददों की भी जानकारी ली।  मुख्य सचिव ने जम्मू-कश्मीर के लिए विस्तारित उत्तर पूर्वी उद्योगिक विकास योजना की तर्ज पर उद्योगिक विकास पैकेज के लिए केन्द्रीय गृह मंत्री के हस्तक्षेप की मांग की। उन्होंने पीएमजीएसवाई के तहत भूमि अधिगृहन के लिए 1724 करोड़ रुपये की विषेश मुआवजे तथा श्रीनगर रिंग रोड़ परियोजना के लिए 759 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राषि और उपकर्ण की खरीद के लिए एसडीआरएफ मानदंडों में छूट की मांग भी की।
राज्यपाल सत्यपाल मलिक, राज्यपाल के सलाहकार बी.बी.व्यास, के. विजय कुमार और खुर्षीद अहमद गनई, केन्द्रीय गृह सचिव गाबा, जम्मू-कश्मीर मुख्य सचिव बी.वी.आर. सुब्रहमण्यम, राज्य के प्रशासनिक सचिव तथा केन्द्र व राज्य सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।