जम्मू-कश्मीर: पत्थरबाजों ने ली 22 साल के जवान की जान

जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजी की घटनाओं में कमी जरूर आई है. लेकिन अभी भी घाटी में पत्थरबाजी की घटनाएं पूरी तरह से बंद नहीं हुई हैं. गुरुवार को सेना की गाड़ी पर पत्थरबाजों ने हमला किया था. जिसमें सेना का एक जवान घायल हो गया था. जवान की शुक्रवार को इलाज के दौरान मौत हो गई है. आपको बता दें कि बोर्डर रोड्स ऑर्गनाइजेशन के काफिले की सुरक्षा में तैनात क्विक रिएक्शन टीम के सदस्य राजेंद्र सिंह की जान पत्थरबाजी में गई है.

जब काफिला अनंतनाग बाईपास ट्राई-जंक्शन से गुजर रहा था, तभी कुछ युवाओं ने सेना की गाड़ी पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए. इसी दौरान सेना के जवान राजेंद्र सिंह भी पत्थर लगने से बुरी तरह घायल हो गए और बाद में उनकी मौत हो गई. 22 साल के राजेंद्र सिंह भी उसी गाड़ी में थे, जिस पर हमला हुआ. हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, एक वरिष्ठ पुलिस ऑफिसर ने इलाके में गुरुवार को पत्थरबाजी की कोई घटना होने की बात से इनकार किया है.
अधिकारियों ने बताया कि गुरुवार शाम करीब 6 बजे काफिला हाईवे से गुजर रहा था, तभी कुछ युवाओं ने गाड़ी पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए. इस बीच राजेंद्र सिंह को भी पत्थर लगा. उसे आर्मी बेस हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां इलाज के लिए दौरान उसकी मौत हो गई. उत्तराखंड के राजेंद्र सिंह 2016 में सेना में शामिल हुए थे.