टेरर फंडिंग: जम्मू-कश्मीर से पुलिस खंगाल रही आरोपियों की कुंडली, हो सकते हैं बड़े खुलासे

कश्मीर में आतंक प्रभावित क्षेत्रों में पुनर्वास के नाम पर सेक्टर-9ए थाना क्षेत्र में फंड एकत्रित करने के आरोप में पकड़े गए कश्मीरी युवकों की कुंडली खंगाली जा रही है। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए गुरुग्राम पुलिस ने जम्मू-कश्मीर पुलिस से संपर्क साधकर आरोपियों की जानकारी जुटा रही है। बुधवार को आरोपियों की रिमांड अवधि पूरी होने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है।

पिछले सप्ताह सेक्टर-9ए थाना क्षेत्र से पुलिस ने चार कश्मीरी युवकों को फंड एकत्रित करने के मामले में पकड़ा था। आरोपियों के पास से मिले डूसू अध्यक्ष अंकित बसौया का फर्जी लेटरहेड पाए जाने के बाद पुलिस ने इस पूरे नेटवर्क को टेरर फंडिंग से जोड़ते हुए जांच शुरू की थी।

आरोपियों में मास्टरमाइंड युवक आमिर बीए द्वितीय वर्ष का विद्यार्थी है। जिसने फर्जी तरीके से डूसू अध्यक्ष का लेटरहेड बनाया था। आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ में सामने आया कि सभी आरोपी दिल्ली के शास्त्री पार्क एरिया में शरणार्थी कैंपों में रह रहे थे।