देश में कोरोना के 6 महीने पूरे, बढ़ता जा रहा है दर्द, 24 घंटे में 52 हजार से ज्यादा मामले सामने आए

कोरोना वायरस के भारत में दस्तक दिए 6 महीने पूरे हो गए हैं. छह महीने बाद भी देश में कोरोना के मामलों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हो रही है. पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 52 हजार से ज्यादा कोरोना के मामले बढ़े हैं. इससे पहले सबसे ज्यादा 49,931 मामले 27 जुलाई को दर्ज किए गए थे. वहीं 24 घंटे में 775 मौतें हुई हैं, ये मौत की संख्या ब्राजील, अमेरिका, मैक्सिको के बाद दुनिया में सबसे ज्यादा है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में कुल संक्रमितों की संख्या 16 लाख के करीब हो गई है. वहीं करीब 35 हजार लोगों की मौत हो चुकी हैं.

10 लाख से ज्यादा ठीक हुए
स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, भारत में अबतक 15 लाख 83 हजार 792 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. इनमें से 34,968 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 10 लाख 20 हजार 582 लोग ठीक भी हुए हैं. पांच लाख 28 हजार लोगों का अस्पताल में इलाज जारी है. यानि कि देश में अभी 33.35% एक्टिव केस हैं, 64.43% इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं और 2.20% लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

दुनिया में तीसरा सबसे प्रभावित देश
कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का तीसरा सबसे प्रभावित देश है. अमेरिका, ब्राजील के बाद कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित भारत है. लेकिन अगर प्रति 10 लाख आबादी पर संक्रमित मामलों और मृत्युदर की बात करें तो अन्य देशों की तुलना में भारत की स्थिति बहुत बेहतर है. भारत से अधिक मामले अमेरिका (4,568,037), ब्राजील (2,555,518) में हैं. देश में कोरोना मामले बढ़ने की रफ्तार भी दुनिया में दूसरे नंबर पर बनी हुई है.

एक्टिव केस के मामले में टॉप-5 राज्य
आंकड़ों के मुताबिक, देश में इस वक्त करीब 5 लाख कोरोना के एक्टिव केस हैं. सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं. महाराष्ट्र में एक लाख 50 हजार संक्रमितों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है. इसके बाद दूसरे नंबर पर तमिलनाडु, तीसरे नंबर पर दिल्ली, चौथे नंबर पर गुजरात और पांचवे नंबर पर पश्चिम बंगाल है. इन पांच राज्यों में सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं. एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का तीसरा स्थान है. यानी कि भारत ऐसा तीसरा देश है, जहां फिलहाल सबसे ज्यादा संक्रमितों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है.