जम्मू-कश्मीर: अनंतनाग जेल में अब तक 96 कैदी कोरोना पॉजिटिव

दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जेल में कम से कम 96 कैदी कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। ये आंकड़ा गुरुवार तक का है। सूत्रों ने बताया कि जिला कानूनी सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष ने जिले के उपायुक्त को जेल में कोरोना वायरस संक्रमितों की बढ़ रही संख्या को देखते हुए एक पत्र लिखा है। बढ़े रहे मामलों में एक जेल कर्मचारी और ठेकेदार के कोरोना की चपेट में आने की पुष्टि हुई है।  

आधिकारिक बातचीत में कहा गया है कि 10 जुलाई को जेल में पहला मामला दर्ज किया गया था। उसके बाद 13 जुलाई को 4 मामले दर्ज किए गए और मंगलवार 14 जुलाई ये आंकड़ा बढ़कर 44 हो गया है।

कानूनी सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष ने निर्थारित कोविड-19 प्रोटोकॉल और मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के मुताबिक कोरोनो वायरस की जांच के लिए उचित सुविधा की मांग की है।  

अध्यक्ष ने पत्र में लिखा है कि अनंतनाग के जेल में फैल रहे कोरोना के प्रसार को किसी भी तरह से रोकने और संक्रमित हुए कैदियों को अलग करने को लेकर तत्काल उपाय करने की जरूरत है।  वर्तमान में इस जेल में 249 कैदी है, जो क्षमता से अधिक हैं। 

जेल में कोविड-19 संक्रमित पाए जाने वाला पहला कैदी कुपवाड़ा के तिरेगाम के जहूर अहमद भट है। भट को 2018 में पीएसए के तहत हिरासत में लिया गया था और तब से वह यहां है। भट स्वतंत्रता-समर्थक जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के संस्थापक मुहम्मद मकबूल भट का भाई है, जिसे 1984 में तिहाड़ जेल में फांसी दी गई थी।