एनआईटी में प्रवेश के लिए नियमों में ढील, जेईई मेन के साथ 12वीं पास होना पर्याप्त

केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ने कहा है कि एनआईटी (नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी) और केंद्र से सहायता प्राप्त टेक्निकल संस्थानों में प्रवेश के लिए नियमों में बदलाव किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रक्रिया को छात्रों के लिए सरल बनाया गया है। 
पोखरियाल ने कहा कि कोरोना वायरस के चलते उत्पन्न हुई परिस्थितियों को देखते हुए सेंट्रल सीट एलॉकेशन बोर्ड (सीएसएबी) ने तय किया है कि इन संस्थानों में प्रवेश के लिए जेईई मेन 2020 पास अभ्यर्थियों को 12वीं कक्षा के केवल पास सर्टिफिकेट की आवश्यकता होगा। इसमें उनके अंकों को नहीं देखा जाएगा।
इससे पहले एनआईटी और केंद्र से वित्तीय सहायता प्राप्त टेक्निकल संस्थानों में प्रवेश के लिए छात्रों के लिए जेईई मेन परीक्षा पास करने के साथ 12वीं की परीक्षा में 75 फीसदी अंक या क्वालिफाइंग एग्जाम के टॉप 20 परसेंटाइल में होना आवश्यक था।