अखिलेश बोले, ‘देश को नया PM देना चाहते हैं, लेकिन मुलायम सिंह प्रधानमंत्री रेस से बाहर’

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि बीजेपी और कांग्रेस में कोई फर्क नहीं है. उन्होंने कहा कि यूपी में सपा-बसपा और आरएलडी गठबंधन ने बीजेपी को रोक दिया है. कांग्रेस के साथ गठबंधन न करने पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस बीजेपी को सीधा-सीधा लाभ पहुंचाना चाहते हैं, इसलिए हमारे साथ हाथ नहीं मिलाया. न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में अखिलेश यादव ने कहा कि हमारा गठबंधन भारत को नया प्रधानमंत्री देना चाहता है. जब अंतिम नतीजे सामने आ जाएंगे, तब पार्टी प्रधानमंत्री पद के बारे में तय करेगी.

मुलायम नहीं हैं पीएम रेस के दावेदार
समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के प्रधानमंत्री पद की रेस में शामिल होने के सवाल पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि स्पष्ट तौर पर अभी कुछ भी नहीं कहा जा सकता. हमारा गठबंधन भारत को नया प्रधानमंत्री देना चाहता है. जब अंतिम नतीजे सामने आ जाएंगे, तब पार्टी प्रधानमंत्री पद के बारे में तय करेगी. अच्छा होगा, यदि नेताजी को यह सम्मान मिलता है. उन्होंने कहा कि संभवतः मुलायम सिंह पीएम पद की दौड़ में शामिल नहीं है.

देश को नया पीएम देना की चाहत
एएनआई को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि अगर हम सरकार बनाएंगे, तो बीजेपी से भी अच्छी सरकार देंगे. अखिलेश ने कहा कि इतने गठबंधन है तो हमारे पास विकल्प हैं. हम देश को नया पीएम देना चाहते हैं. यूपी ने हमेशा पीएम दिया है. किसी भी कोने से पीएम बन सकता है, लेकिन अगर यूपी से बनता है तो मुझे खुशी होगी.

राष्ट्रवाद पर बोले सपा अध्यक्ष
राष्ट्रवाद के सवाल पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि मुझे अपने जीवन का परिचय नहीं देना है. मैं सैन्य विद्यालय में सात साल पढ़ हूं, मेरे साथ के लोग शहीद हुए हैं. उन्होंने कहा मेकी पत्नी जिस घर से आती हैं, वो फौजी परिवार है. बीजेपी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि हम गाते बजाते नहीं है, परेड कर बता सकते हैं.

सीएम योगी पर साधा निशाना
न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कहते हैं, आतंकवादियों के पास SP का झंडा है… क्या वह बताएंगे, उनके पास कितने झंडे हैं…? उन्होंने कहा कि उनके पास एक झंडा उनके ‘मठ’ का है, एक हिन्दू युवा वाहिनी का, और एक झंडा आरएसएस का है. सपा अध्यक्ष ने कहा कि हमारे पास तो सिर्फ दो ही झंडे हैं एक भारत का और दूसरा पार्टी का.

कोई भी पार्टी कमजोर प्रत्याशी नहीं देता
अखिलेश यादव ने कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के उसे दावे को खारिज किया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि बीजेपी के वोट काटने के लिए कांग्रेस ने कमजोर उम्मीदवार उतारे हैं. लेकिन अखिलेश यादव ने उनके दावे को नकारते हुए कहते हैं कि लोग उनके साथ नहीं हैं ऐसे में यह एक बहाना है. अखिलेश ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि कांग्रेस ने कहीं भी कमजोर उम्मीदवार उतारे हैं. कोई भी पार्टी चुनावी मैदान में कमजोर प्रत्याशी नहीं उतारती है.

चाचा शिवपाल को लेकर कुछ यूं बोले
शिवपाल को लेकर पूछे गए सवाल क्या कभी ये हो सकता है कि दोनों एक हो जाए? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि ये कह पाना मुश्किल है. गलती किसकी थी, ये जानना जरूरी है. सवाल को टालते हुए उन्होंने कहा कि
अभी चुनाव अच्छा चल रहा है, इस पर बात नहीं करते हैं.