मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने का समय भाजपा के लिए उत्तम: उमर

नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने तंज कसते हुए कहा है कि ऐसे समय में जब देश में लोकसभा चुनाव हो रहा है और नरेन्द्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री की कुर्सी के लिए प्रयासरत हैं, पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किए जाने से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को राजनीतिक लाभ के लिए ‘अच्छा’ मुद्दा मिल गया है।

अब्दुल्ला ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा बुधवार को मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किये जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया,‘‘जब भी भाजपा का प्रचार अभियान धीमा पड़ता है उसे कोई न कोई ‘अच्छा ’ मुद्दा मिल जाता है। मोदी जी के दोबारा प्रधानमंत्री चुने जाने को लेकर भाजपा के चुनाव प्रचार के बीच अजहर मसूद को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ओर से प्रतिबंधित किये जाने के फैसले का समय भाजपा के लिए इससे अच्छा नहीं हो सकता था।’’

उन्होंने कहा कि मसूद पर प्रतिबंध लगाये जाने को संकेतात्मक जीत मानी जा सकती है, क्योंकि मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित किये जाने के समय 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलावामा में आतंकवादी हमले में केंद्रीय रिजर्व सुरक्षा बल के 40 से अधिक जवानों की शहादत का जिक्र नहीं हुआ।

उन्होंने कहा,‘‘ पुलवामा का जिक्र नहीं हुआ। कितनी जल्दी उनकी शहादत को भुला दिया गया। चीन के राजनयिक असली मायने में खुश होंगे क्योंकि उनके ‘शब्दों के मायाजाल’ से भारत और पाकिस्तान दोनों को राजनयिक जीत का श्रेय लेने का मौका मिल गया। यह कोई मामूली उपलब्धि नहीं है।’’