Exit Poll 2019: जम्मू-कश्मीर में भी BJP का जलवा बरकरार, मिलीं इतनी सीटें

जम्मू-कश्मीर में भी बीजेपी का जलवा बरकरार दिख रहा है. पार्टी यहां 2014 का प्रदर्शन दोहराने की स्थिति में दिख रही है. आज तक-एक्सिस माई इंडिया की ओर से किए गए एग्जिट पोल में बीजेपी(एनडीए) को दो से तीन सीटें मिल रहीं हैं. वहीं कांग्रेस शून्य से एक सीट के बीच में सिमट सकती है. जबकि फारूक अब्दुल्ला की जम्मू-कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस(JKNC) को दो से तीन लोकसभा सीटों पर जीत मिल सकती है. एग्जिट पोल ने पीडीपी और अन्य को शून्य सीटें दिखाईं हैं.इस प्रकार देखें तो बीजेपी यहां कुल छह में से आधी सीटों पर परचम लहराने की स्थिति में है.

2014 के लोकसभा चुनाव के आंकड़ों की बात करें तो बीजेपी को तीन लोकसभा सीटें मिलीं थीं. वहीं 2014 में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों के आधार पर बीजेपी को दो और कांग्रेस को एक और नेशनल कांफ्रेंस को तीन सीटें मिलतीं दिखीं थीं. घाटी में अशांति का माहौल, पत्थरबाजी की बढ़ती घटनाओं और पीडीपी से अलगाव के बाद राज्य में बीजेपी के लिए नुकसान होने की आशंकाएं जताईं जा रहीं थीं, मगर एग्जिट पोल में ऐसे संकेत नहीं दिखे हैं.

आज तक-एक्सिस माई इंडिया के 2019 के एग्जिट पोल के मुताबिक  बीजेपी को जम्मू-कश्मीर में 38 प्रतिशत वोट शेयर मिलेगा. वहीं कांग्रेस(यूपीए) को 24, जम्मू-कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस को 18, पीडीपी को आठ और अन्य को 12 प्रतिशत वोट शेयर मिलेगा. 2014 में बीजेपी को 33, कांग्रेस को 23, जम्मू-कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस को 21, पीडीपी को 11 और अन्य को 12 प्रतिशत वोट शेयर मिला था.

20 गुना बड़ा सैंपल साइज

आज तक-एक्सिस माई इंडिया ने इस बार एग्जिट पोल की विश्वसनीयता को और पुख्ता करने के लिए सैंपल साइज बढ़ाया है. 2014 के मुकाबले इस बार 20 गुना ज्यादा बड़ा सैंपल यानी नमूना लिया गया. 2014 में जहां 36 हजार लोगों से बातकर एग्जिट पोल के आंकड़े तैयार हुए थे, इस बार 2019 में 7 लाख 40 हजार से ज्यादा लोगों से बातचीत की गई. जम्मू-कश्मीर का एग्जिट पोल राज्य के 9539 मतदाताओं से बातचीत के आधार पर तैयार किया गया.