जम्मू-कश्मीर: उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू ने आइसोलेशन केंद्रों की क्षमता बढ़ाने के दिए निर्देश

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू ने कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए आइसोलेशन केंद्रों की क्षमता को बढ़ाने के लिए जल्द कदम उठाने को कहा है. साथ ही उन्होंने वृद्धाश्रमों में रह रहे बुजुर्गों की स्वास्थ्य जांच करवाने की भी हिदायत दी है.

शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ कोरोना वायरस से निपटने के साथ हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद प्रदेश में कोरोना वायरस के ताजा हालातों और इससे निपटने के उपायों पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई. उन्होंने इस बैठक में प्रदेश में क्वॉरंटाइन केन्द्रों और आइसोलेशन वार्डों में बेड्स की संख्या बढ़ाने को भी कहा.

उपराज्यपाल ने 3000 क्वॉरंटाइन बिस्तरों के अलावा कश्मीर में कम से कम 2500 और जम्मू में 1500 आइसोलेशन बेड तैयार रखने, नेबूलाइज और ऑक्सीजन सिलेंडरों वाले क्वॉरंटाइन केंद्र और आइसोलेशन केन्द्रों में उपलब्धता सुनिश्चित रखने को कहा.

इस बैठक में उन्होंने सभी सम्बंधित अधिकारियों को इस महामारी से बचने के लिए रणनीति तैयार करने और उस पर तुरंत कार्रवाई करने के निर्देश जारी किये. इस बैठक में उन्होंने प्रदेश के सभी वृद्धाश्रमों में रह रहे हर बुजुर्ग की स्वास्थ्य जांच करवाने और प्रदेश के हर एक रेड जोन में आवश्यक सामग्री उपलब्ध करवाने की हिदायत दी.

इसके साथ ही उपराज्यपाल ने कोरोना वायरस से संक्रमित हुए लोगों के संपर्क में आये लोगों की तलाश, उनकी नियमित जांच और अलग-अलग इलाकों में चल रही सैनिटाइजेशन अभियानों की भी जानकारी ली.