कश्मीर पर बोले अमित शाह- अमेरिकी राष्ट्रपति हों या कोई और, इसमें हस्तक्षेप न करें

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के मतदान की तारीख नजदीक आने के साथ ही राज्य में राजनैतिक गतिविधियां भी तेज हो गई हैं। बुलढाणा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कांग्रेस और एनसीपी पर जमकर निशाना साधा।अमित शाह ने कहा कि हम कश्मीर मुद्दे पर किसी अन्य देश का हस्तक्षेप नहीं चाहते हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति हों या कोई और, मोदी जी ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है, इसमें हस्तक्षेप न करें।

परिवारवाद को लेकर विपक्ष पर किया प्रहार

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार कांग्रेस और एनसीपी का संस्कार है। नरेन्द्र मोदी और देवेन्द्र फडणवीस पर विरोधी भी भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा सकते, ऐसी पारदर्शी सरकारें देने का काम भाजपा ने किया है।

शाह ने कहा कि भाजपा विदर्भ और महाराष्ट्र के विकास के लिए काम कर रही है। जबकि, कांग्रेस और एनसीपी अपने बेटों के विकास के लिए काम कर रही है। शरद पवार, सुप्रिया सुले, अजीत पवार और उनके बेटे, सभी मैदान में हैं। उन्होंने सवाल किया कि किसी अन्य के पास टैलेंट नहीं है क्या? ये परिवारवादी पार्टियां महाराष्ट्र का विकास नहीं कर सकती हैं।

अमित शाह ने कहा कि एक ओर नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा और शिवसेना है, दूसरी ओर एनसीपी और कांग्रेस है। एनसीपी-कांग्रेस अपने परिवार के लिए चलने वाली पार्टी हैं जबकि भाजपा देश के लिए चलने वाली पार्टी हैं। महाराष्ट्र की जनता को तय करना है कि उन्हें कैसी पार्टी की सरकार चाहिए।