स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया- बिना लक्षण वाले मरीज नहीं फैला सकते हैं कोरोना संक्रमण

 कोरोना वायरस को लेकर एक बड़ी जानकारी सामने आई है. स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ़ से कहा गया है कि जिन मरीज़ों में कोरोना के हल्के लक्षण हैं या जिन्हें बुखार नहीं है, वो संक्रमण नहीं फैला सकते हैं. ऐसे मरीज़ों को लक्षण शुरू होने के 10 दिनों के बाद डिस्चार्ज किया जा सकता है अगर उन्हें लगातार 3 दिन तक बुखार नहीं है. उनको डिस्चार्ज करने से पहले टेस्ट कराने की भी ज़रूरत नहीं है. लेकिन ऐसे लोगों को डिस्चार्ज होने के बाद सात दिन तक घर पर आइसोलेट रहना होगा. स्वास्थ्य मंत्रालय के एक आंकड़े के मुताबिक़ भारत में 69% कोरोना मरीज बिना लक्षण वाले हैं.

बता दें कि देश में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. पिछले 24 घंटों में 5789 नए मरीज सामने आए हैं. एक दिन में 3002 ठीक हुए हैं तो वहीं 132 लोगों की मौत भी हुई है. भारत में अब इस जानलेवा वायरस के 112359 मरीज हो गए हैं. वहीं 45300 लोग इस बीमारी को मात देकर ठीक हो चुके हैं. अबतक 3435 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

किस राज्य में कितनी मौतें हुईं?

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 1390, गुजरात में 749, मध्य प्रदेश में 267, पश्चिम बंगाल में 253, राजस्थान में 147, दिल्ली में 176, उत्तर प्रदेश में 127, आंध्र प्रदेश में 53, तमिलनाडु में 87, तेलंगाना में 40, कर्नाटक में 41, पंजाब में 38, जम्मू-कश्मीर में 18, हरियाणा में 14, बिहार में 10, केरल में 4, झारखंड में 3, ओडिशा में 6, चंडीगढ़ में 3, हिमाचल प्रदेश में 3, असम में 4, और मेघालय में एक मौत हुई है.

कोविड-19 मामलों का पॉजिटिविटी रेट 4.4

भारत के लिए एक राहत की बात यह है कि कोरोना संकट से लगातार तीन महीनों तक जूझने के बावजूद कोविड-19 मामलों का पॉजिटिविटी रेट 4.4 ही है. यानी टेस्ट की संख्या एक लाख प्रतिदिन पहुंच जाने के बाद भी 4.4 प्रतिशत लोग ही पॉजिटिव पाए जा रहे हैं. हालांकि 13.6 दिनों में मामलों के दोगुना होने की रफ्तार अभी भी चिंता का सबब बनी हुई है.