जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए बड़ा कदम, राज्य में बनेंगे 11 एयरपोर्ट

एयरपोर्ट अथारिटी ऑफ इंडिया (एएआई) ने क्षेत्रीय संपर्क योजना ‘उड़ान-4’ (उड़े देश का आम नागरिक) के तहत अलग-अलग रूटों की बोलियां मंगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. इस बार यह योजना उत्तर-पूर्व के राज्य, पहाड़ी राज्यों, जम्मू-कश्मीर (J&K), लद्दाख (Ladakh) और द्वीपों को जोड़ने पर केंद्रित है. ‘उड़ान-4’ (UDAN 4.0) के तहत के तहत जम्मू और कश्मीर (Jammu and Kashmir) में 11 तथा लद्दाख में 2 एयरपोर्ट बनाए जाएंगे.

सरकार ने लॉन्च की UDAN 4.0

बता दें कि बीते मंगलवार को सरकार ने छोटे और मझौले शहरों को हवाई नेटवर्क से जोड़ने के लिए क्षेत्रीय संपर्क योजना यानी ‘उड़ान’ के चौथे चरण की बोली प्रक्रिया शुरू की थीं. उड़ान-4 योजना के तहत अगले पांच साल में एक हजार नए रूट पर 100 से ज्यादा नए हवाई अड्डों से विमान सेवा शुरू करने का टारगेट तय किया गया है.

बन चुके हैं 700 रूट्स

उड़ान योजना के अब तक के तीन चरणों में 700 हवाई मार्गों का आवंटन हुआ है. इनमें से 232 रूट्स पर तो हवाई सर्विस शुरू भी हो चुकी है.

UDAN 4.0 में जम्मू-कश्मीर पर फोकस

उड़ान-4 योजना में सरकार पहाड़ी राज्यों पर हवाई रूट्स विकसित करने पर अपना ध्यान फोकस कर रही है. इनमें पूर्वोत्तर के क्षेत्र, पहाड़ी राज्यों, जम्मू कश्मीर, लद्दाख और द्वीपों पर ध्यान दिया गया है. इस चरण में उत्तर प्रदेश में अयोध्या के नजदीक फैजाबाद में भी हवाई अड्डे पर काम किया जाएगा.