5 दिन बंद रहेंगे बैंक, आज ही निपटा लें अपने काम

अगर आपको भी अगले कुछ दिनों में बैंक से संबंधित कोई काम है तो यह खबर आपके लिए बहुत काम की है. दरअसल दिसंबर के आखिरी 10 दिन में से पांच दिन बैंक बंद रहने वाले हैं. दरअसल बैंककर्मियों के संगठन यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) की तरफ से 21 और 26 दिसंबर की हड़ताल का ऐलान किया गया है. हड़ताल की यह घोषणा 11वीं द्विपक्षीय वेतन संशोधन वार्ता के लिए बिना शर्त आदेश पत्र जारी करने की मांग को लेकर की गई है. अधिकारियों की तरफ से बुधवार को इस बारे में जानकारी दी गई.

छह दिन में से एक दिन खुलेंगे बैंक
इसके अलावा भी 21 से 26 दिसंबर के बीच ज्यादातर बैंक बंद रहेंगे. बैंककर्मी 21 दिसंबर को हड़ताल पर रहेंगे, 22 को महीने के चौथे शनिवार के कारण बैंकों की छुट्टी है. 23 दिसंबर को रविवार है. 25 को क्रिसमस है और 26 दिसंबर को बैंक कर्मी फिर से हड़ताल पर हैं. इन छह दिनों में केवल एक दिन 24 यानी सोमवार को बैंक खुलेंगे. ऐसे में इस दिन बैंकों में भारी भीड़ जमा होने की उम्मीद है. हड़ताल और छुट्टियों के कारण बैंक सोमवार को छोड़कर अगले शुक्रवार से बुधवार तक बंद रहेंगे.

19 महीने बाद तक कोई प्रगति नहीं हुई
ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कंफेडरेशन (एआईबीओसी) के सहायक महासचिव सजय दास ने कहा, ‘हमने 2017 के मई में प्रस्तुत मांग-पत्र के आधार पर 11वीं द्विपक्षीय वेतन संशोधन वार्ता के लिए पूर्ण और बिना शर्त आदेश पत्र जारी करने की मांग को लेकर 21 दिसंबर को हड़ताल का आह्वान किया है. वेतन संशोधन पर चर्चा शुरू होने के 19 महीनों बाद भी अबतक कोई प्रगति नहीं हुई है.’

उनके अनुसार यूनियन के 3.2 लाख से अधिक अधिकारी इस हड़ताल में शामिल होंगे, क्योंकि इंडियन बैंक्स एसोसिएशन की तरफ से उन 5 बैकों को राजी करने के लिए अभी तक ‘कोई स्पष्ट पहल’ नहीं की गई है, जिन्होंने अभी तक बिना शर्त वाला आदेश पत्र जारी नहीं किया है. हड़ताल के दौरान शुक्रवार को एटीएम सेवाएं ‘सामान्य’ रहने की संभावना है, जबकि 26 दिसंबर को एटीएम सेवाएं प्रभावित होंगी. यूनियन की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष शुभज्योति बंदोपाध्याय ने कहा कि यह हड़ताल तीन सरकारी बैंकों -बैंक ऑफ बड़ौदा, विजया बैंक और देना बैंक- के विलय के खिलाफ भी की जा रही है.