अंतरिम बजट से उपभोक्ता खर्च, आर्थिक वृद्धि को मिलेगा समर्थन

कारोबार के पक्ष में आवाज उठाने वाले एक अमेरिकी संगठन ने शुक्रवार को लोकसभा में पेश अंतरिम बजट की सराहना करते हुए कहा कि यह उपभोक्ताओं के खर्च और आर्थिक वृद्धि को बढ़ावा देगा. वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को लोकसभा में वित्तवर्ष 2019-20 के लिए अंतरिम बजट पेश किया था. बजट में छोटे किसानों को वित्तीय मदद, असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को पेंशन तथा 5 लाख रुपये तक की आय पर आयकर से छूट जैसी बड़ी घोषणाएं की गई है.

पाइरेसी पर भी लगाम लगेगी
अमेरिका भारत कारोबार परिषद की अध्यक्ष निशा देसाई बिस्वाल ने से कहा, ‘हमें ऐसे कई सकारात्मक कारक दिखाई दे रहे हैं जो उपभोक्ताओं के खर्च और आर्थिक वृद्धि को बढ़ावा देंगे. इनके अलावा रक्षा, स्वास्थ्य तथा कृत्रिम मेधा पर भी ध्यान दिया गया है.’ उन्होंने कहा कि फिल्म निर्माण के लिए एकल खिड़की मंजूरी से मीडिया एवं मनोरंजन उद्योग को समर्थन मिलेगा तथा पाइरेसी पर लगाम लगेगी.

अमेरिका भारत चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष करुण ऋषि ने कहा कि अंतरिम बजट किसान एवं मध्यम वर्ग हितैषी है. उन्होंने कहा कि छोटे किसानों को वित्तीय मदद तथा मध्यम वर्ग को कर छूट से खर्च करने योग्य आमदनी बढ़ेगी. उन्होंने कहा, ‘इससे उपभोग बढ़ेगा और यह ग्रामीण अर्थव्यवस्था तथा घरेलू वृद्धि को बढ़ावा दे सकता है.’