नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान ने किया संघर्षविराम का उल्लंघन, भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई जारी

पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। आतंकियों को घुसपैठ कराने की फिराक में पाकिस्तानी सेना संघर्षविराम का उल्लंघन कर रही है। आज यानी कि शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से सेना की चौकियों को निशाना बनाते हुए गोलाबारी की गई, जोकि अभी भी जारी है। वहीं पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का सेना माकूल जवाब दे रही है।उधर, भातर-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे हीरानगर के खेतों में गेहूं की कटाई का काम शुरू हो गया है। पाकिस्तान यहां भी गोलाबारी करने से बाज नहीं आ रहा। इसके चलते किसानों में डर का माहौल भी है। किसानों में यह डर भी है कि गोलाबारी के दौरान कोई गोला अगर पकी फसल में गिर गया तो पूरी फसल नष्ट हो जाएगी, इसलिए किसान जल्द से जल्द इस काम को निपटाना में लगे हैं।

हालांकि जिला उपायुक्त ओपी भगत और बीएसएफ के उच्चाधिकारियों ने किसानों को आश्वासन दिया है कि 10 दिन तक सुरक्षा बांध का काम रोका जाएगा, ताकि किसान फसल काट सकें। किसानों को इन्हीं 10 दिनों में पूरा काम निपटाना होगा।

सीमावर्ती गांव छन्न टांडा में फसल कटाई का काम शुरू कराने पहुंचे मढ़ीन के बीडीसी चेयरमैन कर्ण कुमार ने किसानों को बताया कि प्रशासनिक और बीएसएफ के उच्चाधिकारियों से बात कर फसल कटाई पूरी होने तक सीमा पर चल रहे सुरक्षा बांध का कार्य रोकने की मांग की थी, क्योंकि सुरक्षा बांध के काम को बाधित करने के लिए ही पाकिस्तान यहां गोलाबारी करता है।