जीएमसी जम्मू में कैंसर संस्थान के लिए 120 करोड़ मंजूर

राज्य में कैंसर से जूझ रहे मरीजों के लिए अच्छी खबर है। केंद्र सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने तृतीय स्तर की कैंसर देखभाल सेवाओं को मजबूत करने के लिए सरकारी मेडिकल कॉलेज जम्मू में राज्य कैंसर संस्थान के लिए औपचारिक रूप से 120 करोड़ रुपये मंजूर कर दिए। इससे पहले श्रीनगर में स्किम्स सौरा के लिए राज्य कैंसर संस्थान को मंजूरी दी गई थी, जिसके लिए 47.25 करोड की पहली अनुदान सहायता पहले ही जारी की जा चुकी है। स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार जीएमसी जम्मू में कैंसर संस्थान के लिए भारत सरकार ने लगभग 43 करोड़ की धनराशि जारी की है। इस महत्वपूर्ण परियोजना के लिए जरूरी सभी औपचारिकताओं को पूरा किया जाएगा। इस इंस्टीट्यूट के बनने से रेडिएशन आनकोलॉजी, मेडिकल आनकोलॉजी, सर्जिकल आनकोलॉजी, आईसीयू, पैलेटिव केयर सर्विसेज, कैंसर पुनर्वास सेवाएं, कैंसर मनोरोग सेवा, व्यापक कैंसर निदान सेवाओं का मरीजों को लाभ मिलेगा। इस इंस्टीट्यूट में सौ बिस्तर होंगे। इसमें लिनीयर एक्सलरेटर, पेट स्कैन, ब्रैकीथेरेपी, 4डी सीटी सिम्युलेटर के साथ-साथ पैथोलॉजी लैब को भी इस योजना के तहत लिया जाएगा। जीएमसी जम्मू में सुविधा की स्थापना के साथ, रोगियों को अब विशेष उपचार सुविधाओं, विशेष रूप से पेट स्कैन सुविधा के लिए राज्य से बाहर जाने की आवश्यकता नहीं है। राज्य में कैंसर इंस्टीट्यूट की घोषणा साल 2014 में की गई थी लेकिन औपचारिकताएं पूरी न होने के कारण इसे बनाया नहीं जा सका था। छह महीने पहले केंद्र ने राज्य उच्च न्यायालय में हलफनामा दिया था कि जिस योजना के तहत यह इंस्टीटयूट आना था, वह खत्म हो गई है। नई केंद्र सरकार ही अब इस पर फैसला करेगी। अब केंद्र सरकार ने कैंसर इंस्टीट्यूट के लिए 120 करोड़ रुपये मंजूर कर दिए हैं।