Coronavirus: जानें कौन कौन से राज्यों में लॉकडाउन, सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं रहेंगी चालू

कोरोना वायरस (Coronavirus) का आतंक देश में बढ़ता जा रहा है और भारत में इस महामारी से 396 लोग संक्रमित हैं और 7 लोगों की मौत हो गई है. इस महामारी से लड़ने के लिए केंद्र सरकार के साथ राज्य सरकारें बड़े पैमाने पर कदम उठा रही हैं और इसी कड़ी में देश के कई राज्यों और करीब 75 शहरों में लॉकडाउन यानी तालाबंदी का एलान किया गया है. कोरोना को रोकने के लिए दिल्ली समेत देश के 23 राज्यों में पूर्ण या आंशिक लॉकडाउन का एलान किया गया है और इसमें सिर्फ आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी.

इन राज्यों में लॉकडाउन का एलान
कोरोना वायरस की दहशत के चलते दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, केरल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, पंजाब, राजस्थान और नागालैंड में अलग-अलग तारीखों तक के लिए आंशिक या पूर्ण लॉकडाउन का एलान कर दिया गया है.

दिल्ली में 31 मार्च तक लॉकडाउन
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कल एलान किया था कि कोरोना वायरस के चलते दिल्ली में 31 मार्च तक लॉकडाउन रहेगा और दिल्ली की सीमाएं 31 मार्च तक सील रहेंगी.

उत्तर प्रदेश में 16 जिलों में लॉकडाउन या तालाबंदी
उत्तर प्रदेश के लिए कल सीएम योगी आदित्यनाथ ने 16 जिलों के लिए लॉकडाउन का एलान किया और इसमें राजधानी लखनऊ, प्रयागराज, दिल्ली के सटे गौतमबुद्ध नगर के साथ गाजियाबाद, आगरा, मुरादाबाद, वाराणसी, सहारनपुर, आजमगढ़, मेरठ, लखीमपुर खीरी, कानपुर, बरेली, अलीगढ़, गोरखपुर में भी लॉकडाउन लगा दिया गया है.

बिहार के साथ-साथ उत्तराखंड और राजस्थान में भी लॉकडाउन
बिहार में रविवार को एक शख्स की कोरोना वायरस से मौत हो गई जिसके बाद सूबे के सीएम नीतीश कुमार ने राज्य में 31 मार्च तक के लिए लॉकडाउन का एलान किया. इसके अलावा राजस्थान और उत्तराखंड में भी 31 मार्च तक के लिए लॉकडाउन घोषित हो चुका है. बिहार के सभी जिला मुख्यालयों, अनुमंडल मुख्यालयों, प्रखंड मुख्यालयों, नगर निकायों में 31 मार्च तक लॉकडाउन की घोषणा की गई है.

पंजाब में 31 मार्च तक लॉकडाउन
पंजाब में कोरोना वायरस से एक मौत होने के बाद राज्य के पांच जिलों में लॉकडाउन लगा दिया गया है जो कि 31 मार्च तक जारी रहेगा.

देश में राज्यों में भी लॉकडाउन
पूरे झारखंड में भी 31 मार्च तक लॉकडाउन रहेगा.

हरियाणा के 7 जिलों में 31 मार्च तक लॉकडाउन रहेगा- ये जिले हैं- गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, पानीपत, झज्जर, रोहतक और पंचकुला.

मध्य प्रदेश के 9 जिलों- भोपाल, जबलपुर, सिवनी, बालाघाट, बैतूल, ग्वालियर, छिन्दवाड़ा, रतलाम और नरसिंहपुर को अलग-अलग वक्त के लिए लॉकडाउन किया गया है.

छत्तीसगढ़ में सभी नगरीय क्षेत्रों में 31 मार्च तक लॉकडाउन किया गया.

हिमाचल प्रदेश में भी 31 मार्च तक शटडाउन रहेगा.

पश्चिम बंगाल में कोलकाता, नॉर्थ 24 परगना, मालदा, मुर्शीदाबाद, नाडिया, पश्चिमी वर्धमान, उत्तरी दिनजापुर, सिलिगुड़ी, दार्जीलिंग, कुर्सिओंग और हावड़ा जिले में लॉकडाउन रहेगा.

पूरे तेलंगाना में 31 मार्च तक लॉकडाउन
तेलंगाना के सीएम के. चंद्रशेखर राव ने रविवार को कहा कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए एहतियातन कदम के तौर पर राज्य में 31 मार्च तक पूरी तरह लॉकडाउन रहेगा. उन्होंने कहा कि सभी अंतर्राज्यीय सीमाएं सील रहेंगी और केवल दवाएं आदि आवश्यक वस्तुओं को लेकर आने वाले वाहनों को राज्य में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी. राव ने जनता से इस अवधि में घरों में ही रहने की अपील की है. सफेद कार्ड धारक के लिए 12 किलो चावल राज्य सरकार द्वारा फ्री दिया जाएगा.

आंध्र प्रदेश में भी 31 मार्च तक लॉकडाउन का ऐलान किया गया है.

पूरे नगालैंड में अनिश्चितकाल के लिए लॉकडाउन.

केंद्र सरकार ने 31 मार्च तक जम्मू और कश्मीर में भी लॉकडाउन का एलान किया है.

उत्तराखंड में 31 मार्च तक पूर्ण लॉकडाउन

त्रिपुरा में भी लॉकडाउन

ओडिशा में 29 मार्च तक लॉकडाउन है

गोवा
गोवा में 25 मार्च तक जनता कर्फ्यू जारी रहेगा और गोवा सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए जनता कर्फ्यू की समयसीमा रविवार को बढ़ाकर 25 मार्च तक कर दी है.

कर्नाटक
कर्नाटक सरकार की कोरोना वायरस प्रभावित नौ जिलों में बंद की घोषणा- कर्नाटक सरकार ने रविवार को राजधानी शहर सहित राज्य के नौ जिलों में आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी वाणिज्यिक गतिविधियों को 31 मार्च तक बंद करने की घोषणा की। ये जिले बेंगलुरु शहर, बेंगलुरु ग्रामीण, मंगलुरु, मैसूरु, कलबुर्गी, धारवाड़, चिक्कबल्लापुर, कोडागु और बेलगावी हैं।
कल सफल रहा था जनता कर्फ्यू
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 19 मार्च को किए गए जनता कर्फ्यू के आह्वान के बाद कल पूरे देश में सफल जनता कर्फ्यू देखा गया और इसके बाद शाम को 5 बजे लोगों ने अपने-अपने घरों के बाहर थाली-तालियां और घंटी, शंख आदि के साथ कोरोना वायरस से लड़ने वाले देश के डॉक्टर्स, नर्से, मेडिकल कर्मचारियों, सफाईकर्मचारियों और उन सभी का आभार व्यक्त किया जो लोग अपने अपने स्तर पर कोरोना वायरस से लड़ाई लड़ रहे हैं. हालांकि पीएम मोदी ने इसके लिए देशवासियों का धन्यवाद दिया लेकिन साथ ही ये भी कहा कि अभी ये लड़ाई लंबी चलेगी.

पीएम मोदी ने कहा-लंबी चलेगी लड़ाई
पीएम मोदी ने कहा कि सफल जनता कर्फ्यू का मतलब यह नहीं है कि हम सेलिब्रेशन शुरू कर दें. इसको सफलता न मानें. यह एक लम्बी लड़ाई की शुरुआत है. आज देशवासियों ने बता दिया कि हम सक्षम हैं, निर्णय कर लें तो बड़ी से बड़ी चुनौती को एक होकर हरा सकते हैं.