दिल्ली: महीने भर कोरोना से लड़ने के बाद 25 साल के डॉक्टर की मौत, एम्स में ली आखिरी सांस

एक महीने से अधिक समय तक कोरोना वायरस से जूझने के बाद एम्स से एमबीबीएस की पढ़ाई करने वाले 25 साल के डॉक्टर की सोमवार सुबह मौत हो गई. हरियाणा के हिसार के रहने वाले डॉ विकास सोलंकी का पिछले महीने कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आए था, तब से वह अस्पताल में भर्ती थे. शनिवार को डॉ सोलंकी को झज्जर परिसर से दिल्ली के एम्स ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया था और उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था.

डॉक्टरों के अनुसार, सोलंकी ने 2018-2019 में एम्स छोड़ दिया था, लेकिन संस्थान में गैर-शैक्षणिक नौकरी के लिए आवेदन किया था. डॉ वामिकुर रहमान गजधर उनके सीनियर और एम्स दिनों के करीबी दोस्त, जिन्होंने हाल ही में अपने पिता को कोरोना की वजह से खोया था, ने कहा, “मैं अभी अपने पिता को खोने के गम से बाहर नहीं आया हूं और अब विकास के बारे में सुनकर दिल टूट गया. वह एम्स में मुझे मिले सबसे प्रतिभाशाली छात्रों में से एक था. उन्हें दवाई से लेकर दर्शनशास्त्र, राजनीति से लेकर इतिहास तक हर चीज का ज्ञान था.”

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 49 लाख के पार
भारत में एक दिन में कोविड-19 के 83,809 नए मामले सामने आने के बाद मंगलवार को संक्रमितों की संख्या 49 लाख के पार पहुंच गई. वहीं, संक्रमण से मुक्त होने वाले लोगों की संख्या 38,59,399 हो गई है, इसी के साथ रिकवरी रेट 78.28 फीसदी हो गया है.

देश में पिछले 24 घंटे में 1,054 लोगों की मौत हुई, जिनमें से सबसे ज्यादा 363 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई. कर्नाटक में 119, पंजाब में 68, उत्तर प्रदेश में 62, आंध्र प्रदेश में 60, पश्चिम बंगाल में 58, तमिलनाडु में 53, मध्य प्रदेश में 29, दिल्ली में 26, हरियाणा में 25, छत्तीसगढ़ में 18, गुजरात और जम्मू में 17-17, केरल और उत्तराखंड में 15-15 और राजस्थान और गोवा में 14-14 लोगों की मौत हुई.

वहीं असम में 13, ओडिशा में 11, तेलंगाना में 10, बिहार और पुडुचेरी में 9-9, त्रिपुरा में सात, झारखंड में छह, चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश में पांच-पांच, सिक्किम में दो और अरुणाचल प्रदेश, अंडमान निकोबार द्वीपसमूह, मेघालय और लद्दाख में एक-एक मरीज की मौत हुई.