दिल्ली दंगा: पुलिस ने जेएनयू के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद की 10 दिनों की हिरासत मांगी, कल किया गया था गिरफ्तार

दिल्ली दंगा मामले में पुलिस ने गैर कानूनी गतिविधि (निरोधक) कानून के तहत गिरफ्तार जेएनयू के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद की 10 दिनों की हिरासत मांगी है. इस साल फरवरी में उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए दंगे में कथित भूमिका के आरोप में पुलिस ने रविवार देर रात जेएनयू के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद को गिरफ्तार किया.

दिल्ली दंगे के सिलसिले में दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने 2 सितंबर को कुछ घंटे तक उमर से पूछताछ की थी. इससे पहले पुलिस ने दंगे से जुड़े एक अन्य मामले में उमर के खिलाफ गैर कानूनी गतिविधि (निषेध) कानून (यूएपीए) के तहत मामला दर्ज किया था. दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने भी दंगे के पीछे कथित साजिश के मामले में उमर से पूछताछ की थी.

पुलिस ने उसका मोबाइल फोन भी जब्त कर लिया था. गौरतलब है कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के विरोधी और समर्थकों के बीच हिंसा के बाद 24 फरवरी को उत्तर पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक दंगे भड़क गए थे जिसमें कम से कम 53 लोगों की मौत हुई थी जबकि 200 के करीब घायल हुए थे.