जम्मू-कश्मीर प्रशासन सरकारी अस्पतालों के पर्चों का ऑडिट करेगा

जम्मू-कश्मीर स्वास्थ्य विभाग सरकारी डॉक्टरों की अनैतिक कार्यप्रणाली पर रोक लगाने के लिए दवाओं एवं जांच के पर्चों के ऑडिट के संबंध में एक समिति का गठन करेगा। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने शुक्रवार को कहा कि पर्चों का ऑडिट करने वाली समितियों का गठन सरकारी चिकित्सा महाविद्यालयों और जिला एवं उपजिला स्तर पर किया जाएगा। उन्होंने बताया कि केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासन ने सरकारी डॉक्टरों के अनैतिक व्यवहार एवं पेशेवर कदाचार की शिकायतों को देखने के लिए शिकायत निपटान तंत्र स्थापित करने का भी आदेश दिया है। इन समितियों के अधिकारी हर दिन लिखे जाने वाले चिकित्सीय पर्चों में से कम से कम एक प्रतिशत की फोटोकॉपी इकठ्ठा करेंगे और इनकी वैधता जांची जाएगी। प्रवक्ता ने बताया कि समितियां यह भी देखेंगी कि कोई अनावश्यक जांच तो नहीं लिखी गई और मरीजों को प्राइवेट क्लिनिक या विशेषज्ञों के पास तो नहीं भेजा गया।