J&K: सरकारी सेवा में फिर बहाल हो सकते हैं डॉ फैसल, अभी तक सरकार ने इस्तीफा नहीं किया है मंजूर

नौकरशाही छोड़ सियासत में अपना कैरियर तलाशने गए डाॅ शाह फैसल का इस्तीफा आज तक मंजूर नहीं हुआ है। क्यास लगाया जा रहा है कि शाह फैसल इस्तीफा वापस ले सकते हैं। केंद्र सरकार भी उन्हें मौका दे सकती है। उनके सरकारी सेवा में लौटने की अटकलों को बीते दिनों भारतीय वन सेवा के अधिकारी मुफ्ती सज्जाद हुसैन की सेवा बहाली से भी बल मिला है।

सज्जाद हुसैन मुफ्ती पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय मुफ्ती मोहम्मद सईद के भतीजे और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के चचेरे भाई हैं। उन्होंने वर्ष 2014 के दौरान सरकारी सेवा से स्वैच्छिक सेवा से इस्तीफा दे दिया था। उसके बाद वह पीडीपी की सियासत में सक्रिय गए। करीब दो साल पहले उन्होंने गुपचुप दोबारा ड्यूटी पर रिपोर्ट कर दिया था। वर्ष 2009 में यूपीएससी की परीक्षा में टाॅप कर सुर्खियों में आने वाले डाॅ शाह फैसल ने करीब तीन साल पहले सियासत में शामिल होने का संकेत देना शुरु कर दिया था।