जम्मू-कश्मीर के डोडा में नदी में डूबने से मां-बेटी की मौत

 जम्मू-कश्मीर के डोडा जिले के दूरदराज के एक गांव में मां-बेटी की नदी में डूबने से मौत हो गई। पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी।

भद्रवाह के पुलिस अधीक्षक राज सिंह गौरिया ने बताया कि चिल्ली-पिंगल गाँव में नदी पार करते समय जरीना (17) तेज धारा में गिर गई। उसकी मां समीना बेगम (43) ने उसे बचाने के लिए नदी में छलांग लगा दी, लेकिन दोनों पानी की तेज धार में बह गयीं।

उन्होंने बताया कि दोनों महिलाओं के उस समूह की हिस्सा थीं, जो शनिवार शाम जंगल से जंगली मशरूम लेकर लौट रहा था, जिन्हें स्थानीय तौर पर ‘गुच्छी’ कहा जाता है।

प्रत्यक्षदर्शियों का हवाला देते हुए, गौरिया ने कहा कि जरीना नदी के ऊपर लकड़ी के अस्थायी पुल के सहारे दूसरी तरफ जा रही थी, लेकिन संतुलन खो बैठी और पानी में गिर गई। उसके पीछे जा रही उसकी मां उसे बचाने के लिए नदी में कूद गई।

अधिकारी ने बताया कि दोनों नदी के तज बहाव में बह गई। पुलिस के पहुंचने से पहले ग्रामीणों ने दोनों के शवों को बाहर निकाला।

ग्रामीणों का कहना है कि यहां पर ऐसी कई घटनाएं हो चुकी हैं।

एक ग्रामीण ने कहा, ‘‘हमने नदी पर एक पुल बनाने के लिए सरकार से बार-बार अनुरोध किया है, लेकिन अब तक कोई कदम नहीं उठाया गया है।’’