पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत 33 करोड़ से ज्यादा लोगों को मिला फायदा, 31,325 करोड़ रुपये बांटे गए-वित्त मंत्रालय

वित्त मंत्रालय ने कोरोना वायरस संकटकाल के दौरान केंद्र सरकार के द्वारा दी गई आर्थिक मदद का विवरण दिया है. इसके तहत मंत्रालय ने जानकारी दी है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत अब तक 33 करोड़ से ज्यादा गरीब लोगों को 31,325 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद मुहैया कराई जा चुकी है.

किसानों को मिले 16,146 करोड़ रुपये
प्रधानमंत्री किसान योजना की पहली किस्त के तहत देश के 8 करोड़ किसानों को अब तक 16,146 करोड़ रुपये का वितरण किया जा चुका है. बता दें कि इसकी पहली किस्त अप्रैल के महीने में गरीब किसानों के खाते में डाली गई है. पीएम किसान योजना के तहत 2000 रुपये की पहली किस्त किसानों के खाते में जा चुकी है.

कुल 2.82 करोड़ बुजुर्गों-दिव्यांगों और विधवाओं को बांटे गए 1405 करोड़ रुपये
वित्त मंत्रालय ने सूचना दी है कि कुल मिलाकर अब तक 1405 करोड़ रुपये वितरित किए गए हैं और इसका फायदा कुल 2.82 करोड़ बुजुर्गों, विधवाओं और दिव्यांगों को मिला है. देश में 20.05 करोड़ महिला जनधन खाताधारकों को अब तक 10.025 करोड़ रुपये का वितरण किया जा चुका है.

इसके अलावा सरकार ने नौकरीपेशा वर्ग के लिए भी कार्य किए हैं जिसके तहत एंप्लाई प्रोविडेंट फंड योगदान के रूप में 162 करोड़ रुपये अब तक ट्रांसफर किए जा चुके हैं और ये 68,775 प्रतिष्ठानों में जा चुके हैं. इसका फायदा देश के 10.6 लाख नौकरी करने वाले लोगों को मिला है.

मार्च में वित्त मंत्री ने किया था 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का एलान
बता दें कि मार्च के आखिरी हफ्ते में वित्त मंत्रालय ने देश के गरीबों, बुजुर्गों, महिलाओं, दिव्यांगों, मजदूरों, किसानों और दिहाड़ी कामगारों के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक राहत पैकेज का एलान किया था. इस रकम को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत बांटे जाने का एलान वित्त मंत्री ने किया था.

लॉकडाउन के चलते कारोबार-कामकाज ठप होने से मुश्किल में जनता
कोरोना वायरस के कारण देश में जारी लॉकडाउन के चलते कारोबार और सभी कामकाज लगभग ठप हैं और इसका सबसे ज्यादा नुकसान रोज के दिहाड़ी मजदूरों, किसानों और गरीब वर्ग पर पड़ रहा है. ऐसे ही लोगों की सहायता करने के लिए सरकार ने आर्थिक राहत पैकेज का एलान किया था.

देश में 3 मई तक लॉकडाउन जारी है 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में कोरोना वायरस के कारण 25 मार्च से 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन का एलान किया था और लॉकडाउन फेज 1 के आखिरी दिन यानी 14 अप्रैल को इसे 3 मई तक बढ़ाने का एलान किया था. लॉकडाउन 2.0 जो कि 3 मई तक जारी रहेगा, इसके भी आगे बढ़ने के कयास लगाए जा रहे हैं लेकिन अभी इसको लेकर कोई स्पष्ट संकेत नहीं हैं.