J&K हाईकोर्ट में भारत के संविधान की शपथ लेने वाले पहले जज बने जस्टिस रजनीश ओसवाल

जम्मू कश्मीर हाईकोर्ट में भारत के संविधान की शपथ लेने वाले नियुक्त जस्टिस रजनीश ओसवाल पहले जज बने. इससे पहले हाईकोर्ट जज J&K संविधान की शपथ लेते थे. कोरोना के चलते पहली बार हाईकोर्ट के एक जज के शपथग्रहण का सीधा प्रसारण हुआ. जम्मू और कश्मीर हाईकोर्ट में जज नियुक्त जस्टिस रजनीश ओसवाल को चीफ जस्टिस गीता मित्तल ने संविधान की शपथ दिलाई. इसका वेबलिंक के माध्यम से सीधा प्रसारण किया गया, क्योंकि शपथ के समय लोग नहीं जा पाए.

बताते चले कि 11 अगस्त 2018 को न्यायमूर्ति गीता मित्तल ने जम्मू एवं कश्मीर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली थी. हालांकि उन्होंने J&K संविधान की शपथ ली थी. यह पहली बार हुआ, जब जस्टिस रजनीश ओसवाल ने भारत के संविधान की शपथ ली. यह भी बताते चले कि जस्टिस रजनीश ओसवाल से पहले राज्य के उच्च न्यायालय की अध्यक्षता करने वाली वह पहली महिला न्यायाधीश गीता बनी थीं. उससे पहले न्यायमूर्ति गीता मित्तल दिल्ली उच्च न्यायालय की कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश थीं.