सीमा पर तनातनी के बीच भारत और चीन के विदेश मंत्रियों की रूस में बैठक

लद्दाख सीमा पर भारत और चीन के बीज जारी तनातनी के बीच भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर अपने चीनी समकक्ष वांग यी से मॉस्को में मुलाकात कर रहे हैं. LAC के पास भारत और चीन की सेनाओं के बीच झड़प के बाद पूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनाव के मद्देनजर दोनों विदेश मंत्रियों के बीच वार्ता जारी है. बता दें कि जयशंकर और वांग शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक में भाग लेने के लिए मास्को में है.

इससे पहले रूस, भारत और चीन (RIC) के विदेश मंत्रियों ने गुरुवार को मॉस्को में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) से इतर त्रिपक्षीय वार्ता की. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट किया, ‘मॉस्को में विदेश मंत्री (सर्गेई) लावरोव की मेजबानी में आयोजित आरआईसी के विदेश मंत्रियों की बैठक में भाग लिया. गर्मजोशी से भरे उनके आतिथ्य के लिए धन्यवाद.’

जयशंकर ने रूस और चीन के अपने समकक्षों की तस्वीर भी पोस्ट की. आरआईसी ढांचे के तहत तीनों देशों के विदेश मंत्री समय-समय पर अपने हितों वाले द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुददों पर चर्चा करने के लिए मिलते रहते हैं.

जयशंकर एससीओ के विदेश मंत्रियों की बैठक में भाग लेने के लिए चार दिवसीय दौरे पर मॉस्को में हैं. भारत और चीन दोनों इस संगठन के सदस्य हैं. लावरोव रूसी राजधानी मॉस्को में बुधवार से गुरुवार तक आयोजित एससीओ विदेश मंत्रियों की बैठक के मेजबान हैं.