जम्मू कश्मीर: लॉकडाउन से डगमगा रही अर्थव्यवस्था, सरकार ने जरूरत की चीजों का उत्पादन शुरू किया

कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए जारी लॉकडाउन से डगमगा रही अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने कुछ आवश्यक जरूरतों की चुनिंदा औद्योगिक इकाइयों में उत्पादन शुरू करने की हामी भर दी है. सूत्रों को माने को पहले चरण में ऐसी चुनिंदा करीब 20 इकाइयों को उत्पादन की सशर्त इजाजत दी जाएगी.

सूत्रों की माने तो जम्मू-कश्मीर प्रदेश सरकार जिन औद्योगिक इकाइयों को उत्पादन की सशर्त इजाजत दे सकती है उनमें आटा, दाल, चावल, फार्मा, साबुन, खाद्य तेल, जूस समेत 20 इकाईयां शामिल हैं. गौरतलब है कि लॉकडाउन के तुरंत बाद से ऐसी कई इकाइयों में काम पहले भी चल रहा था लेकिन अब सरकार ने इन जरूरी वस्तुओं के उत्पादन से जुड़ी सभी इकाइयों में काम शुरू करवाने का फैसला लिया है.

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 20 अप्रैल से उत्पादन क्षेत्र में कुछ रियायत देने की घोषणा की थी, जिसके बाद जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव ने प्रदेश में औद्योगिक इकाइयों को चलाने के लिए दिशा निर्देश जारी कर दिए. इन दिशा निर्देशों को जारी करने के साथ ही यह भी स्पष्ट किया गया है कि अगर कोई इकाई इन दिशानिर्देशों का उल्लंघन करती है तो उसकी अनुमति रद्द की जाएगी.

वहीं इन दिशा निर्देशों में कहा गया है कि रेड जोन में किसी भी इकाई को फिलहाल चलाने की इजाजत नहीं दी जाएगी. इसके साथ ही रेड जोन से किसी भी कर्मचारी या श्रमिक को काम पर नहीं बुलाया जायेगा. जिला कर्मचारियों और श्रमिकों के लिए सम्बंधित जिला प्रशासन पास जारी करेगा. इन सभी इकाइयों में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जायेगा.