J&K: भारी बारिश से नदी-नाले उफान पर, मौसम विभाग ने दी बाढ़ और भूस्खलन की चेतावनी

जम्मू-कश्मीर में पिछले चौबीस घंटे से हो रही बारिश से निचले इलाकों में नदी-नाले उफान पर हैं। रियासी में नाला पार कर रहे दो लोग बह गए। इसमें 70 वर्षीय एक बुजुर्ग की मौत हो गई, जबकि दूसरा युवक लापता है। कई स्थानों पर भूस्खलन से संपर्क मार्ग अवरुद्ध हैं। जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर दूसरे दिन एक दर्जन स्थानों पर पस्सियां गिरने के कारण शुक्रवार को भी यातायात नहीं शुरू हो पाया। हाईवे पर लगभग 3000 वाहन फंसे हुए हैं।

इस बीच रियासी में चिनाब दरिया पर बने सलाल बांध में जलस्तर बढ़ने के कारण उसके सभी 12 गेट शुक्रवार दोपहर ढाई बजे खोल दिए गए। लोगों से चिनाब दरिया के किनारे न जाने की सलाह दी गई है। मौसम विभाग ने कारगिल और जम्मू संभाग के चिनाब घाटी में शनिवार को बाढ़ और भूस्खलन की चेतावनी दी है।

रियासी के बठोई में शुक्रवार को नाला पार करते समय हबलू नाम का बुजुर्ग तेज बहाव की चपेट में आकर बह गया, जिससे उसकी मौत हो गई। बताया जाता है कि सत्तर वर्षीय हबलू निवासी बठोई कहीं जाने के लिए नाले को पार कर रहा था कि उसका पैर फिसल गया और वह तेज बहाव की चपेट में आ गया। उसका शव बरामद कर लिया गया है। उधर, अंस नाले में भी एक युवक मोहन सिंह बह गया, जिसके बारे में देर शाम तक कुछ पता नहीं चला।

गुरुवार सुबह से दोपहर तक और शुक्रवार सुबह से लगातार बारिश के बाद सलाल बांध के सभी 12 गेट शुक्रवार दोपहर ढाई बजे के करीब ही खोल दिए गए। जबकि इसे शनिवार को खोला जाना था। दरिया का पानी कई ग्रामीण इलाकों से होकर अखनूर-परगवाल क्षेत्र तक पहुंचता है।