कोविड-19: जम्मू प्रशासन ने पूरी आबादी की जांच प्रक्रिया शुरु की

 जम्मू जिला प्रशासन ने सोमवार को “कोविड-19 स्वास्थ्य ऑडिट” के लिए घर -घर जाकर सर्वेक्षण करने की प्रक्रिया की शुरुआत की, ताकि एक सप्ताह के भीतर जिले की 15 लाख से अधिक आबादी की जांच की जा सके। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी।वायरस की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य ब्योरा एकत्र करने के लक्ष्य से सैंकड़ों टीम शहर के सूदूर इलाकों में फैल गए हैं। जम्मू की उपायुक्त सुषमा चौहान ने पीटीआई-भाषा को बताया, “वायरस के प्रसार को रोकने के लिए पूरे जिले में व्यापक कोरोना वायरस स्वास्थ्य सर्वेक्षण शुरू किया गया है। यह अपने आप में अनोखी पहल है क्योंकि हम एक सप्ताह के भीतर जिले की 15 लाख से अधिक आबादी की जांच करने जा रहे हैं।” उन्होंने कहा कि एक सप्ताह के अंदर जम्मू के हर घर के सदस्य की जांच की जाएगी। डीसी ने कहा कि जांच और स्वास्थ्य ब्योरा एकत्र करने के लिए तीन स्तरीय तंत्र गठित किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रशासन ने सर्वेक्षण करने के लिए बुनियादी स्तर पर 1,400 टीमों का गठन किया है।आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के अलावा ब्लॉक स्तर के अधिकारी (बीएलओ) की अगुवाई वाली टीमें हर घर में वायरस के लक्षणों की जांच करने के लिए जाएंगी। वे अपने स्वास्थ्य निधि एप्लिकेशन पर स्वास्थ्य संबंधी सवालों के माध्यम से जानकारी इकठ्ठा करेंगी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक टीम हर दिन 50-55 परिवारों का सर्वेक्षण करेगी और द्वितीय स्तर पर सेवारत 250 चिकित्सा अधिकारियों को सूचना भेजेगी। इसके बाद एक मेडिकल टीम संदिग्ध रोगियों की जांच के लिए उस विशेष घर का दौरा करेगी।