जम्मू-कश्मीर में 40 नए कॉलेज खोलने को मंजूरी

राज्य प्रशासनिक परिषद (एसएसी) ने राज्य में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए 40 नए कॉलेज खोलने को मंजूरी दे दी। ये कॉलेज 2019 से 2021 के बीच स्थापित किए जाएंगे। नए कॉलेज बनने से राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों के करीब 40 हजार युवाओं को फायदा होगा। कॉलेजों का ढांचे पर भी चर्चा की गई।

राज्यपाल सत्यपाल मलिक की अध्यक्षता वाली राज्य प्रशासनिक परिषद की बैठक ने नए कॉलेज खोलने का फैसला इस मामले में गठित उच्चस्तरीय कमेटी की सिफारिशों पर किया। कमेटी ने सुझाव दिया था कि जरूरत के हिसाब से राज्य के किस-किस हिस्से में नए कॉलेज खोले जाएंगे। यह कमेटी भविष्य में नए कॉलेज खोलने के लिए भी सुझाव देगी। राज्यपाल ने गत वर्ष सितंबर में भी उच्च शिक्षा विभाग को 40 नए कॉलेज खोलने की दिशा में कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। विभाग से कहा गया था कि वह सरकार के आदेश पर कार्रवाई कर प्रस्ताव को राज्य प्रशासनिक परिषद की अगली बैठक में लाए।

उच्च स्तरीय समिति ने नामांकन, दूरी, छात्रों की बढ़ती संख्या आदि विभिन्न मापदंडों पर कॉलेज बनाने के लिए योग्य पाए गए राज्य के 40 स्थान चिन्हित किए। कुछ कॉलेजों में कक्षाएं 2019-20 सत्र से शुरू की जा सकती हैं। वहीं 20 कॉलेजों के लिए जमीन उपलब्ध है, उन्हें प्राथमिकता मिलेगी।

इसी बीच, जिन कॉलेजों में डिग्री खोलने को मंजूरी मिली है, उनमें जम्मू के मढ़, सांबा में विजयपुर, ऊधमपुर में चनैनी, नीली नाला व डुडु बसंतगढ़, पुंछ में मंडी, किश्तवाड़ में पाडर, राजौरी में डुंगी, कठुआ के रामकोट, अनंतनाग के अेलीगाम-ऐशमुक्काम, राजौरी में कोटरकां -पीरी, बांडीपोरा में अजस व हाजिन, श्रीनगर में अलूची बाग, लेह में खल्सी, जम्मू के कुंजवानी-सैनिक कॉलोनी, नगरोटा के सिद्डा, रामबन में उखरालफ बटोत, पुलवामा में अवंतीपोरा, अनंतनाग में वेरीनाग, छित्ती ¨सहपोरा, सांबा में रामगढ़, पुरमंडल, कठुआ में मढ़ीन, बारामुला जिले के दांगीवाचा, बोमई, बड़गाम में चढूरा, कुलगाम में काजीगुंड, पुलवामा में राजपोरा, झेनपोरा, शोपियां में वाची, कुपवाड़ा में विल्लगम, कारगिल में द्रास, बारामुला में ¨थडिम क्रेरी, कुलगाम में फ्रिसल होम शालीबाग, कुपवाड़ा में लंगेट शामिल हैं। गौरतलब है कि कॉलेज खुलने से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को काफी लाभ मिलेगा।