जम्मू-कश्मीर: सोलर लाइट से जगमाएंगे राज्य के सभी पेट्रोल पंप

जम्मू-कश्मीर का हर पेट्रोल पंप अब सोलर लाइट से जगमग होगा। बिजली संरक्षण के उद्देश्य से तेल कंपनियों ने मौजूदा सभी पंपों को सोलर लाइट से संचालित करने के साथ राज्य में खुलने वाले नए पंपों के लिए भी सोलर लाइट का प्रावधान अनिवार्य कर दिया है। शुरुआती दौर में तो इसे वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में अपनाया जाएगा, लेकिन उसके बाद पेट्रोल पंप पूरी तरह से सोलर लाइट से रोशन होंगे।

जम्मू-कश्मीर में पेट्रोल की खपत 15 फीसद व डीजल की खपत चार फीसद की दर से बढ़ रही है। इसके अलावा नए राजमार्ग, कृषि क्षेत्रों और औद्योगिक केंद्रों में ग्राहकों की बढ़ती ईधन की आवश्यकताओं को देखते हुए तेल कंपनियों ने राज्य में 646 नए पेट्रोल पंप खोलने का फैसला लिया है। इसके लिए आवेदन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। चुनाव आचार संहिता समाप्त होने के बाद इन पंपों के अलाटमेंट का सिलसिला भी शुरू हो जाएगा।

पेट्रोल पंप अलाटमेंट के लिए जो अनिवार्य औपचारिकताएं निर्धारित की गई हैं, उनमें सोलर लाइट सिस्टम होना भी एक है। ऐसे में राज्य में खुलने वाले नए पेट्रोल पंप सोलर लाइट से चलेंगे। इसके अलावा तेल कंपनियों ने राज्य के मौजूदा 503 पेट्रोल पंपों में सोलर लाइट का प्रावधान अनिवार्य किया है। इनमें से 10 फीसद पेट्रोल पंप ऐसे हैं, जो 24 घंटे खुले रहते हैं। यहां का पूरा संचालन सोलर लाइट से हो रहा है। सोलर लाइट से संचालित इन पेट्रोल पंपों को मिसाल बनाकर तेल कंपनियां अब दूसरे पंपों को भी विकसित कर रही हैं।

ये कंपनियां खोलेंगी पेट्रोल पंप इंडियन आयल कॉरपोरेशन

जम्मू-कश्मीर में 202 रेगुलर व 183 ग्रामीण पेट्रोल पंप, भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन 52 रेगुलर व 73 ग्रामीण, हिंदुस्‍तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन 80 रेगुलर व 56 ग्रामीण पेट्रोल पंप खोलने जा रही है। राज्य में इस समय बीपीसीएल के 137, आइओसी के 227 व एचपीसीएल के 139 पेट्रोल पंप हैं।

इतनी है खपत

अक्टूबर 2018 के आंकड़ों के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में महीने की तीन लाख 38 हजार किलोलीटर पेट्रोल व छह लाख 55 हजार किलोलीटर डीजल की बिक्री हुई। पहली अगस्त 2017 को तय कमीशन के तहत 1000 लीटर पेट्रोल पर 2674.74 रुपये फिक्स कमीशन व 0.8589 रुपये प्रति लीटर कमीशन दिया जाता है। डीजल में एक हजार लीटर पर 2031.38 रुपये फिक्स कमीशन व 0.2571 रुपये प्रति लीटर कमीशन दिया जाता है।

जून में शुरू होगी नए पंपों की अलाटमेंट प्रक्रिया

इंडियन आयल, भारत पेट्रोलियम व हिंदुस्‍तान पेट्रोलियम की प्रदेश कोऑर्डिनेशन कमेटी के सदस्य एवं इंडेन के रिटेल सेल्स मैनेजर राजीव यादव के अनुसार लोकसभा चुनाव के मद्देनजर चुनाव आचार संहिता लागू होने से अलाटमेंट प्रक्रिया बीच में रोकी गई है। आचार संहिता संपन्न होते ही प्रक्रिया दोबारा शुरू होगी। अगर राज्य में जून में विधानसभा चुनाव नहीं हुए और कुछ समय मिला तो इस साल के अंत तक अलाटमेंट प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। जहां तक सोलर पेट्रोल पंपों की बात है, तो नए सभी पंपों पर इसका प्रावधान रखा गया है।