जम्मू-कश्मीर में दो साल बाद होंगे रणजी मुकाबले, यह भारतीय टीम का खिलाड़ी संभालेगा टीम की कमान

राज्य के घरेलू मैदानों पर एक बार फिर स्थानीय क्रिकेटरों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा। बीसीसीआई की मंजूरी के बाद राज्य के क्रिकेट मैदानों पर रणजी ट्राफी के चार मुकाबले खेले जाएंगे। इसमें श्रीनगर में एक और जम्मू में तीन मुकाबले होंगे। इसके अलावा अंडर 16, अंडर 23, अंडर 19, अंडर 14 आयु वर्ग के मुकाबलों से भी राज्य के मैदान व्यस्त रहेंगे। सूत्रों की माने तो जम्मू-कश्मीर टीम की कमान परवेज रसूल संभालेंगे और इस टीम में गेंदबाज इरफान पठान भी शामिल हैं।

बीसीसीआई के शेड्यूल के मुताबिक जेएंडके बनाम त्रिपुरा के बीच 20 नवंबर को राउंड 3 में टीबीपी श्रीनगर के मैदान पर भिड़ंत होगी। इसी तरह राउंड 5 में उत्तर प्रदेश बनाम जेएंडके के बीच 6 दिसंबर 2018 को जीजीएम साइंस कालेज जम्मू, 22 दिसंबर को राउंड 7 में जेएंडके बनाम उड़ीसा के बीच जीजीएम साइंस कालेज जम्मू और 7 जनवरी को राउंड 9 में जेएंडके बनाम झारखंड के बीच जीजीएम साइंस कालेज जम्मू के मैदान मुकाबले खेले जाएंगे।

इससे पूर्व 1 नवंबर को राजस्थान बनाम जेएंडके के बीच सवाया मान सिंह स्टेडियम जयपुर, 12 नवंबर को गोवा बनाम जेएंडके के बीच गोवा मैदान, सर्विस बनाम जेएंडके बीच 28 नवंबर को एयर फोर्स कांप्लेक्स मैदान पालम नई दिल्ली, राउंड 6 में हरियाणा बनाम जेएंडके के बीच 14 दिसंबर को चौधरी बंसी लाल क्रिकेट स्टेडियम हरियाणा, राउंड 8 के बीच असम बनाम जेएंडके के बीच 30 दिसंबर को नेहरू स्टेडियम गुवाहटी के बीच मुकाबला होगा।

राज्य में अंडर 16 आयु वर्ग में दो श्रीनगर और एक जम्मू के मैदान पर मुकाबला खेला जाएगा। अंडर 23 आयु वर्ग में जम्मू में चार, अंडर 19 आयु वर्ग में जम्मू में चार और अंडर 14 आयु वर्ग में जम्मू में 8 मुकाबले खेले जाएंगे। जेकेसीए कमेटी के सदस्य आशिक हुसैन बुखारी, जंग बहादुर सिंह जमवाल के प्रयासों से दो साल बाद घरेलू मैदानों पर रणजी ट्राफी के मुकाबले करवाए जा रहे हैं। इससे पहले वर्ष 2015-16 में रणजी ट्राफी के मुकाबले करवाए गए थे।