धनतेरस : बदला खरीदारी का अंदाज, पसंद हुई हाईटेक

जम्मू : बदलती जीवन शैली और जरूरतों के बीच त्योहारों पर खरीदारी का स्वरूप भी बदला है। जिस तरह से बदलते ¨जदगी के अंदाज में लोगों की जरूरतें बदली हैं, उसी तरह बदलती जरूरतों के अनुसार खरीदारी भी बदल गई है। धनतेरस जैसे त्योहार पर पहले जहां बर्तन खरीद कर इस दिन पर पूजा-अर्चना की जाती थी, वहीं आज लोग इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों, वाहनों व जेवरात की खरीदारी की ओर बढ़ रहे हैं। पारंपरिक तौर पर बर्तनों की जो खरीदारी हो भी रही है, उनमें भी अब लोग बड़े बर्तनों के बजाय छोटे बर्तनों या इलेक्ट्रॉनिक किचन एप्लायंस को प्राथमिकता दे रहे हैं। धनतेरस पर पहले आमतौर पर रसोई घर की जरूरत का सामान खरीदा जाता था। अब जब से माडयुलर किचन का फैशन आया है, गृहिणियां इस दिन पर बर्तन के बजाय इलेक्ट्रॉनिक किचन एप्लायंस खरीद रही है। समाज के उच्च वर्ग में इस दिन जेवरात खरीदने का प्रचलन भी पिछले कुछ सालों में काफी बढ़ा है और हर कोई अपने बजट अनुसार इस दिन खरीदारी करता है।

-बाजार भी पूरी तरह से तैयार

-त्योहारों के सीजन का बेसब्री से इंतजार करने वाला बाजार सोमवार को आ रही धनतेरस के स्वागत को लेकर पूरी तरह से तैयार है। नवरात्र महोत्सव के बाद धनतेरस ऐसा त्योहार है, जिसमें सबसे अधिक खरीदारी होती है। इसकी वजह है कि लोग दिवाली की खरीदारी भी इसी दिन करना शुभ मानते हैं। ऐसे में शहर के पुरानी मंडी, ¨लक रोड, रघुनाथ बाजार, रेजीडेंसी रोड, सुपर बाजार व राज तिलक रोड पर अधिकतर दुकानों में इस समय खरीदारों की अच्छी-खासी चहल-पहल है। दुकानदारों ने पूरी वैरायटी सजाकर रखी है ताकि ग्राहकों को अपनी पसंद की चीज ढूंढने में ज्यादा समय न लगे।

-हर वर्ग के लिए धनतेरस पर बाजार तैयार

धनतेरस अब सिर्फ परिवार के बड़े बुजुर्गो के लिए खरीदारी का त्योहार नहीं रहा, बल्कि अब हर आयु वर्ग के लिए यह त्योहार अलग-अलग आइटम लेकर आ गया है। युवा जहां इस दिन अपने लिए मोबाइल, टीवी, स्टाइलिश घड़ियां, दोपहिया वाहन व अन्य गैजेट्स खरीदना शुभ मानते हैं तो वहीं विद्यार्थी वर्ग लैपटॉप आदि खरीदने लगे हैं। अपनी साम‌र्थ्य के अनुसार लोग गाड़ियों की खरीद भी इस दिन करते हैं। गाड़ियों के शोरूम इस नवरात्र के बाद इस दिन सबसे ज्यादा गाड़ियां बेचते हैं। इस दिन गाड़ी खरीदने वालों ने बाकायदा एडवांस में बु¨कग भी करवा दी है और गाड़ियों के शोरूम में इस दिन के लिए बु¨कग भी लगभग बंद हो चुकी है।

-शॉ¨पग माल में उमड़ रही भीड़

शहर में भी अब खरीदारी के तौर-तरीके धीरे-धीरे बदलने लगे हैं। एक-एक दुकान पर जाकर खरीदारी करने के बजाय लोग शॉ¨पग माल में जाकर खरीदारी करने को प्राथमिकता देने लगे हैं। विशाल मेगा मार्ट, बेस्ट प्राइज, वेव मॉल व ईजी-डे के बाद अब बिग बाजार भी जम्मू में खुल चुका है जिनमें त्योहारों के इस सीजन में अच्छी-खासी भीड़ जुट रही है। लगभग हर शॉ¨पग माल की ओर से इस मौके पर ग्राहकों को अच्छी-खासी छूट का आफर भी दिया जा रहा है।

————

-¨वडो शॉ¨पग का भी दौर

धनतेरस व दिवाली से पूर्व लोग इन दिनों ¨वडो (खरीदारी से पहले देख-परख) शॉ¨पग भी खूब कर रहे हैं। जिन लोगों को धनतेरस या दिवाली पर विशेष खरीदारी करनी है, वे अभी से ¨वडो शॉ¨पग करने निकल पड़े हैं ताकि खरीदने से पहले अच्छी तरह दाम व उत्पाद की जांच-पड़ताल की जा सके। शनिवार को भी शहर की दुकानों व शॉ¨पग माल में काफी संख्या में लोग ¨वडो शॉ¨पग करते पाए गए।

—————

-इलेक्ट्रॉनिक्स की खरीद पर छूट

धनतेरस व दिवाली के मद्देनजर बिक्री को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट इस बार अच्छी-खासी छूट लेकर आई है। इलेक्ट्रॉनिक्स के लगभग हर उत्पाद की खरीद पर कोई न कोई उपहार या नकद छूट मिल रही है। इस समय सबसे अधिक मांग एलईडी की है जिस पर गिफ्ट वाउचर के अलावा अन्य छोटे इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद उपहार में दिए जा रहे हैं। इलेक्ट्रॉनिक्स में दूसरी सबसे बड़ी मार्केट इस समय मोबाइल फोन की है। त्योहारों को देखते हुए मोबाइल कंपनियां भी आकर्षक छूट दे रही हैं।

————-

-सराफा बाजार पर भी लक्ष्मी की कृपा की उम्मीद

धनतेरस पर यह मार्केट भी अच्छी-खासी खरीदारी होने की उम्मीद लगाकर बैठी है। पिछले साल धनतेरस पर सोने का भाव तीस हजार रुपये प्रति दस ग्राम था, जो अब बढ़कर 31 हजार के ऊपर पहुंच गया है। इसके बावजूद सर्राफा बाजार को उम्मीद है कि धनतेरस पर अच्छी बिक्री होगी।

——————

-धनतेरस पर शुभ मुहूर्त में करें खरीदारी एवं पूजन

कार्तिक मास की कृष्ण त्रयोदशी को धनतेरस का पर्व मनाया जाता है। श्री कैलख ज्योतिष एवं वैदिक संस्थान ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत रोहित शास्त्री ज्योतिषाचार्य ने बताया कि इस साल कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी (धनतेरस) 5 नवंबर सोमवार को है। दिवाली से ठीक दो दिन पहले धनतेरस का पर्व मनाया जाता है। इस दिन शाम को यमराज और भगवान धन्वंतरि के साथ ही गणेश, मां लक्ष्मी और कुबेर की पूजा करने से लाभ मिलता है। धनतेरस पर बर्तन खरीदना बेहद शुभ माना जाता है लेकिन इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि कभी भी घर में नए बर्तन खाली न रखें, बर्तन खरीद कर लाने के बाद इसे पानी से भर दें। पानी को सौभाग्य का दूसरा स्वरूप माना जाता है। इससे घर में सुख, संपन्नता आएगी, बर्तनों को खाली न रखें, ऐसा करना बेहद अशुभ होता है। इस दिन खरीदारी करने से घर परिवार, ऑफिस में सुख समृद्धि आती है।