लाल चौक मार्च को जा रहे यासीन मलिक को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पुलिस ले जम्मू कश्मीर लिब्रेशन फ्रंट के चेयरमैन मोहम्मद याीन मलिक को उस समय गिरफ्तार कर लिया जब वह लाल चौक मार्च का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। मलिक अपने समर्थकों सहित लाल चौक के घंटा घर की तरफ बढऩे का प्रयास कर रहे थे। अलगाववादियों ने कुलागाम हत्याओं के विरोध में मंगलवार को लाल चौक का आहवान किया है। उन्होंने लोगों से इस मार्च में भाग लेने और हत्याओं के विरोध में आवाज उठाने को भी कहा था।

अलगाववादी नेता मीरवायज और गिलानी को पुलिस ने सोमवार को नजरबंद कर दिया था। वहीं मलिक अपनी गिरफ्तार से बचने के लिए सोमवार को लापता हो गया था। मंगलवार को किसी तरह से वह अपने समर्थकों सहित लाल चौक पहुंच गया। जानकारी के अनुसार कोकरबाजार में मस्जिद शरीफ में मंगलवार मलिक पहुंच गया और उसने लाल चौक के घंटाघर की तरफ बढऩे की कोशिश की पर पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। गिरफ्तारी से पहले उसने पत्रकारों को संबोधित करते हुये कहा कि सिविल हत्याओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और आन्दोलन तेज किया जाएगा।