किश्तवाड़ दुर्घटना : तीन वर्ष की आदिबा की लुट गई दुनिया, हादसे में मारा गया पूरा परिवार

किश्तवाड़ हादसे में घायल तीन वर्ष की मासूम जिन्दगी और मौत की जंग लड़ रही है। उसे पता नहीं है कि इस हादसे में उसका पूरा परिवार मारा जा चुका है। शायद उसे मौत का मतलब भी नहीं पता है। आदिबा के पिता, माता और दो भाईयों की सोमवार को किश्तवाड़ सडक़ दुर्घटना में मौत हो गई। इस हादसे में 35 लोग मारे गये हैं जबकि कई अन्य बुरी तरह से घायल हो गये थे जिनमें से एक तीन साल की आदिबा भी है।

अदिबा के एक रिश्तेदार बाबर अली ने बताया, आदिबा मेरे कजिन की बेटी है। मेरा कजिन, भाभी और दो भतीजे केशवन में हुये सडक़ हादसे में मारे गये। अदीबा घायल है और गंभीर है। वह आगे कहता है, मुझे जब हादसे के बारे में पता चला तो मैं भी मौके पर पहुंचा। देखा कि दो भतीजे तो वहीं मारे गये थे जबकि भाई और भाभी को अस्पताल ले गये पर डाक्टरों ने बताया कि उनकी भी मौत हो चुकी है। अब समझ में नहीं आ रहा है कि क्या करें। अली आगे कहता है, अदीबा अनाथ हो गई है। सरकार से मद्द चाहिये कि उसके पालन पोषण और पढ़ाई का खर्चा दे। हम उसे बच्चों की तरह पालेंगे पर सरकार भी मद्द कर दे।

अली ने आरोप लगाया कि किश्तवाड़ अस्पताल में इलाक की पूरी सुविधा नहीं है। बहुत सारी खामियां है। उसके अनुसार घटनास्थल पर ऐंबूलेंस भी लेट भेजी गई और अब घायलों को उचित इलाज नहीं दिया जा रहा है। आपको बता दें कि केशवन से किश्तवाड़ की तरफ आ रही मैटाडोर सोमवार को अनियंत्रित होकर पलट गई थी जिससे 35 लोगों की मौत हो गई। राज्यपाल ने हादसे पर दुख प्रकट करते हुये पीड़ित परिवारों को पांच-पांच लाख की मद्द देने की घोषणा की थी।