किश्तवाड़ हादसे में अभिभावकों को खोने वाली बच्ची के लिए विशेष सहायता का ऐलान

जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सोमवार को किश्तवाड़ बस हादसे में अपने अभिभावकों और भाई बहनों को खो चुकी तीन साल की एक बच्ची के लिए विशेष सहायता का ऐलान किया है। राजभवन के एक प्रवक्ता ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। श्रीगवारी किश्तवाड़ में सोमवार को एक बस गहरी खाई में गिर गई थी जिससे 35 लोग मारे गए थे और 17 घायल हो गए थे। जीवित बचे लोगों में तीन साल की एक बच्ची अदीबा भी है जिसके माता पिता और भाई बहन की मृत्यु हो गई थी। अदीबा के साथ हुए घटनाक्रम और हालात पर द्रवित होते हुए राज्यपाल ने बच्ची के लिए रीजनल रेडक्रॉस से राहत के तौर पर दो लाख रुपये देने का ऐलान किया। यह राशि बैंक में सावधि जमा कर दी जाएगी। राजभवन के प्रवक्ता ने यह भी बताया कि इसके अलावा राज्यपाल ने अगले 15 साल तक बच्ची के खाते में हर माह 1,200 रुपये जमा कराने का भी ऐलान किया है।

प्रवक्ता ने बताया कि किश्तवाड़ के अतिरिक्त उपायुक्त बच्ची के वयस्क होने तक उसके स्थानीय संरक्षक होंगे। उन्होंने कहा ‘‘एकीकृत बाल सुरक्षा योजना’’ के तहत अदीबा को सामाजिक एवं वित्तीय सहायता भी दी जाएगी। प्रवक्ता ने कहा कि जिला प्रशासन को राज्यपाल ने आदेश दिया है जिसमें बच्ची के बेहतर एवं सुरक्षित बचपन के लिए जिला प्रशासन को हरसंभव कदम उठाने को कहा गया है।