सौर ऊर्जा से रोशन हुआ जम्मू रेलवे स्टेशन

जम्मू: देश के मॉडल रेलवे स्टेशन में शामिल जम्मू रेलवे स्टेशन को भारतीय रेलवे ने सौर ऊर्जा से रोशन कर दिया है। स्टेशन को आधुनिक सुविधाओं से लैस करने की दिशा में यह कदम उठाया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी जम्मू कश्मीर में सौर ऊर्जा की भरपूर क्षमता होनी की बात कही थी। इसके बाद कटड़ा तथा मनवाल रेलवे स्टेशन को सौर ऊर्जा से युक्त किया गया था। अब जम्मू रेलवे स्टेशन भी सौर ऊर्जा से जगमगा रहा है। सौर ऊर्जा से हर वर्ष भारतीय रेलवे को लाखों रुपयों का लाभ होगा। रेलवे मुख्यालय की ओर से जम्मू रेलवे स्टेशन में सौर ऊर्जा प्लांट लगाया है। दिसंबर से इस प्लांट ने काम करना शुरू कर दिया है। जम्मू रेलवे स्टेशन पर रोजाना करीब एक लाख यात्री आते-जाते हैं। इतनी अधिक संख्या में यात्रियों के आने के बावजूद जम्मू रेलवे स्टेशन के ढांचे का विस्तार नहीं हो पाया है। इसके चलते अब भारतीय रेलवे जम्मू रेलवे स्टेशन को विकसित करने जा रहा है। इसी योजना के तहत सौर ऊर्जा का प्लांट लगाया गया रहा है।

रेलवे के विद्युत विभाग में तैनात एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जम्मू रेलवे स्टेशन पर लगा सोलर प्लांट प्रतिदिन तीस किलोवाट बिजली का उत्पादन कर सकता है। हालांकि इन दिनों सूरज की रोशनी बेहतर होने के कारण यह प्लांट अपनी क्षमता से अधिक बिजली का उत्पादन कर रहा है। सौर ऊर्जा से जलने वाली लाइट का प्रयोग प्लेटफार्म तथा वे¨टग हाल में किया जा रहा है।

जम्मू रेलवे स्टेशन से करीब तीस किलोमीटर की दूरी पर स्थित मनवाल रेलवे स्टेशन को जनवरी 2011 को देश का पहला ग्रीन रेलवे स्टेशन घोषित किया था। इस रेलवे स्टेशन में बिजली तथा पंखे सोलर प्लांट से चलते हैं। इसके बाद जुलाई 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कटड़ा रेलवे स्टेशन का उद्घाटन करते हुए वहां सोलर प्लांट लगाने की घोषणा की थी। इसके कुछ समय बाद कटड़ा रेलवे स्टेशन में भी सोलर प्लांट लगा दिया गया था। अब जम्मू राज्य का तीसरा रेलवे स्टेशन बन जाएगा जिसमें सोलर लाइट का प्रयोग बिजली आपूर्ति के लिए किया जाएगा।