Coronavirus प्रभावित देशों से लौटे वैष्णो देवी के 23 श्रद्धालुओं को यात्रा करने से रोका गया

जानलेवा कोरोना वायरस को जम्मू-कश्मीर में फैलने से रोकने के लिए प्रशासन कोई कसर नहीं छोड़ना चाहता है. पहले जहां कई जिलों के प्राइमरी स्कूल बंद किए गए वहीं अब प्रशासन बाहरी राज्यों से जम्मू पहुंच रहे पर्यटकों और श्रद्धालुओं पर भी कड़ी नजर रखे हुए है. कोरोना वायरस से प्रभावित देशों से लौटने के बाद माता वैष्णो देवी के दर्शनों के लिए पहुंचे 23 श्रद्धालुओं को कटरा में ही रोक दिया गया है.

जम्मू प्रशासन ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए बचाव के साथ-साथ निगरानी पर भी जोर दिया है. प्रदेश में आ रहे यात्रियों और पर्यटकों की स्क्रीनिंग के लिए जम्मू के सभी एंट्री पॉइंट्स पर सतर्कता बढ़ा दी है. इसी सतर्कता के चलते इटली, कनाडा, अमेरिका और नेपाल का सफर कर माता वैष्णो देवी के दर्शनों के लिए पहुंचे 23 भक्तों को कटरा में स्वास्थ्य विभाग ने निगरानी में रखा है.

माता वैष्णो देवी स्थापना बोर्ड ने उन श्रद्धालुओं की यात्रा पर रोक लगा दी है, जिन्होंने हाल ही में कोरोना वायरस प्रभावित देशों की यात्रा की है. बोर्ड ने हरियाणा के उन दो श्रद्धालुओं को भी यात्रा करने से रोका जो हाल ही में इटली की यात्रा के लौटे हैं. वहीं नेपाल के रहने वाले 11 भक्तों को भी यात्रा करने से रोका गया है.

इसके साथ ही चार कनाडा से और अमेरिका से यात्रा कर लौटे छह यात्रियों को भी यात्रा करने से रोक गया है. हालांकि श्राइन बोर्ड का दावा है कि रोके गए सभी यात्री पूरी तरह से स्वस्थ हैं. इनमें से किसी भी यात्री में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं पाए गए हैं.