कोरोना वायरस के बीच कुदरत का कहर, जम्मू में भारी बारिश से 34 मकान ढहे, एक महिला की मौत

जम्मू कश्मीर में शुक्रवार को हुई भारी बारिश के बाद अब तक जम्मू संभाग में 34 मकान ढह गए, जिसमें एक महिला की मौत हो गई. इस बारिश के चलते यातायात के लिए बंद किए जम्मू श्रीनगर हाईवे को रविवार को भी नहीं खोला जा सका.

शुक्रवार को जम्मू कश्मीर में भारी बारिश के बाद शनिवार को धूप खिलते ही जम्मू के कुछ इलाकों में कुदरत का कहर देखने को मिला. धूप खिलते ही बारिश से गीली हुई मिट्टी कमजोर पड़ गई. जिसके बाद जम्मू में करीब 34 कच्चे मकान ढह गए. मकान ढहने से एक महिला की मौत भी हो गई.

खबरों के मुताबिक जम्मू के रामबन जिले के दलवास गांव में 25 घर क्षतिग्रस्त हो गए, जिनमें से आठ मकान पहाड़ से हुए भूस्खलन के साथ ही बह गए. इस इलाके की करीब 300 मीटर सड़क भी भूस्खलन के कारण पूरी तरह से बह गई है, लेकिन इस सब के बीच गनीमत यह रही कि किसी तरह के बड़े नुकसान नहीं हुआ.

वहीं शुक्रवार को जम्मू के आरएसपुरा इलाके में हुई बारिश से एक कच्चा मकान ढहने से एक महिला की मौत हो गई थी. शुक्रवार को हुई बारिश के चलते जम्मू श्रीनगर हाईवे पर रामबन जिले में कई जगह चट्टानें खिसकने के चलते बंद कर दिया गया. हाईवे पर कई जगह आए मलबे के चलते इस हाईवे को यातायात के लिए अब तक नहीं खोला जा सका है. वहीं हाईवे बंद होने के चलते कश्मीर जा रहे हजारों ट्रक फंसे हुए हैं. हाईवे को खोलने का काम लगतार जारी है.