पीडीपी से गठबंधन तोड़ने को लेकर अमित शाह ने खोले राज, कहा- सुरक्षा से नहीं किया समझौता

जम्मू-कश्मीर में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को उधमपुर सीट से पार्टी प्रत्याशी डॉ.जितेंद्र सिंह के समर्थन में रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने पीडीपी, कांग्रेस और नेकां पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में अफस्पा को हटाने की बात कर रही है। वहीं पीडीपी भी जब प्रदेश सरकार में बीजेपी से गठबंधन में थी तो ऐसी मांग उठाई थी। इसी वजह से भाजपा ने गठबंधन तोड़ दिया था।

अमित शाह ने कहा कि, ‘अफस्पा को हटाने का दबाव पड़ने पर भाजपा ने पीडीपी के साथ गठबंधन तोड़ दिया था। एक झटके में भाजपा ने अपना निर्णय लिया था। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस अपने चुनाव घोषणा पत्र में अफस्पा को हटा देने की बात कर रही है। इसके लिए कांग्रेस को शर्म आनी चाहिए। कांग्रेस को मुंगेरी लाल के सपने नहीं देखने चाहिए। अफस्पा को कोई भी नहीं हटा सकता है। भाजपा सरकार चट्टान की तरह सीमा की रक्षा करने वाले जवानों के साथ खड़ी है।’

अमित शाह ने कहा कि, ‘कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में देशद्रोह के कानून को खत्म करने की वकालत की है। मैं राहुल गांधी से पूछना चाहता हूं कि देशद्रोह के कानून को खत्म कर आप किसको बचाना चाहते हो? ‘भारत तेरे टुकड़े होंगे’ का नारा लागाने वाले राष्ट्र विरोधी तत्वों को?’