J&K:बीडीसी चुनाव शुरू, 1092 उम्मीदवार चेयरमैन पद के लिए मैदान में

केंद्र शासित प्रदेश (यूटी) बनने जा रहे जम्मू कश्मीर और लद्दाख में पंचायती राज व्यवस्था मजबूत बनाने के लिए ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल (बीडीसी) चुनाव शुरू हो गए हैं। राज्य में पहली बार हो रहे इस चुनाव में 283 ब्लॉकों के चेयरपर्सन चुने जाने हैं। हालांकि 27 निर्विरोध चुने जा चुके हैं। कुल मिलाकर काउंसिल में 310 प्रतिनिधि होंगे। सुबह नौ बजे शुरू हुई चुनावी प्रक्रिया में अपनी आहुतियां डालने के लिए पंच-सरपंच मतदान केंद्र पहुंचना शुरू हो गए हैं।

जम्मू कश्मीर पंचायत राज अधिनियम 1989 के तहत हो रहे बीडीसी चुनाव में 1092 उम्मीदवार मैदान में हैं। जिन उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला आज होना है, उनमें जम्मू संभाग के डोडा में 74, किश्तवाड़ में 44, रामबन में 39, ऊधमपुर में 58, कठुआ में 72, सांबा में 36, जम्मू में 82, राजौरी में 76 और पुंछ में 61 उम्मीदवार शामिल हैं। कश्मीर में भाग्य आजमाने वालों में से कुपवाड़ा में 101, बारामुला में 90, बांडीपोर में 26, गांदरबल में 28, श्रीनगर में 5 ,बडगाम में 58, पुलवामा में 11, शोपियां में 4, कुलगाम में 18 और अनंतनाग में 55 उम्मीदवार शामिल हैं। लद्दाख संभाग के लेह में 36 व करगिल जिले में 38 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं।

जम्मू संभाग में सुबह से ही मतदान करने को लेकर काफी गहमागहमी देखने को मिल रही है। जहां तक घाटी की बात है तो वहां आतंकवादियों-अलगाववादी नेताओं की धमकियों की परवाह किए बिना पंच-सरपंच मतदान केंद्र आ तो रहे हैं परंतु यह प्रक्रिया भले काफी धीमी गति से चल रही है। मतदान की यह प्रक्रिया दोपहर दो बजे तक चलेगी। 283 ब्लॉकों में होने वाले मतदान में 26629 पंच- सरपंच वोट डालेंगे। ये मतदाता 1065 पंच-सरपंचों के भाग्य का फैसला करेंगे।