जम्मू-कश्मीर में विधानसभा सीटों का एक साल में होगा परिसीमन

नवगठित केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के लिए केंद्र सरकार ने परिसीमन आयोग का गठन कर दिया। आयोग का अध्यक्ष सुप्रीम कोर्ट की पूर्व जस्टिस रंजना प्रकाश देसाई को नियुक्त किया गया है। इस संदर्भ में विधि मंत्रालय ने शुक्रवार को अधिसूचना जारी की। यह आयोग पूर्वोत्तर के राज्यों असम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर तथा नगालैंड के लिए भी लोकसभा और विधानसभा क्षेत्रों का नए सिरे से परिसीमन करेगा। इसमें कहा गया है कि चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा और जम्मू-कश्मीर तथा अन्य चार राज्यों के चुनाव आयुक्त इसके सदस्य होंगे। आयोग को एक साल में अपनी रिपोर्ट देनी होगी। 

नेकां के तीन सांसद डॉ. फारूक अब्दुल्ला, जस्टिस हसनैन मसूदी व मोहम्मद अकबर लोन तथा भाजपा के जुगल किशोर शर्मा आयोग के सलाहकार सदस्य बनाए जा सकते हैं। राज्य का पुनर्गठन होने के बाद विधानसभा के सदस्यों की संख्या 107 से बढ़कर 114 हो गई है। इनमें 24 सीटें पीओके के लिए आरक्षित की गई हैं।