जम्मू-कश्मीरः 20 जिलों में 25 से 30 नवंबर को बैक टू विलेज कार्यक्रम, अफसर सुनेंगे जनता की आवाज

केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद दूसरे चरण में जम्मू-कश्मीर के बीस जिलों में 25 से 30 नवंबर को बैक टू विलेज कार्यक्रम में अफसर जनता की आवाज सुनेंगे। इसके लिए पंचायतों में विभिन्न विभागों के सैकड़ों प्रशासनिक अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। संबंधित अधिकारी जिला उपायुक्तों की देखरेख में जनता के नुमाइंदों को सुनेंगे।बैक टू विलेज के लिए 23 आईएएस, 5 आईएफएस और 222 केएएस अधिकारियों की नियुक्ति की गई है। ये सभी अधिकारी संबंधित जिलों में विभिन्न स्थानों पर नियुक्त होंगे। लोगों तक पहुंच बढ़ाने के लिए अधिकारियों का पूरा ब्योरा संबंधित सरकारी वेबसाइट पर डाला गया है।

इसमें उनके पद, मोबाइल नंबर और नियुक्ति वाले स्थान के बारे में जानकारी दी गई है। संबंधित तिथि के मुताबिक अधिकारियों को उनके नियुक्ति वाले स्थान पर उपलब्ध कराया जाएगा। अधिकारी लोगों से फीडवैक लेकर उनके शीघ्र समाधान पर काम करेंगे। आईएएस अधिकारियों में प्रिंसिपल सचिव, वित्त आयुक्त, आयुक्त, प्रबंधक निदेशक, विशेष सचिव स्तर के अधिकारी लोगों की समस्याओं और मांगों को सुनेंगे।