भाजपा ने जम्मू कश्मीर के स्कूलों में डोगरी, संस्कृत, पंजाबी भाषाओं को शामिल करने की मांग की

जम्मू कश्मीर में उच्च माध्यमिक स्कूलों को हाल में उन्नत किए जाने में डोगरी, संस्कृत, पर्शियन और पंजाबी भाषाओं को शामिल न करने से नाराज भाजपा ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक को पत्र लिखकर उनसे हस्तक्षेप की मांग की। जम्मू कश्मीर प्रदेश प्रशासनिक परिषद ने विभिन्न जिलों में 228 स्कूलों के उन्नतीकरण को मंजूरी दी थी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रदेश मानवाधिकार शाखा के संयोजक हुनर गुप्ता ने राज्यपाल को लिखे एक पत्र में स्कूलों के उन्नतीकरण के लिए जिम्मेदार जम्मू कश्मीर स्कूल शिक्षा विभाग की मंशा पर सवाल खड़े किए।