जम्मू: भगोड़े आरोपियों को पकड़ने गई पुलिस की टीम पर हमला, कांस्टेबल को बनाया बंधक

मवेशी तस्करी के भगोड़े आरोपियों को पकड़ने गई जम्मू पुलिस की टीम पर इलाके के लोगों ने लाठियों और डंडो से हमला कर दिया. इस घटना में तीन पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए. इन पुलिसकर्मियों को अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया है.

कोर्ट के निर्देश पर पकड़ने गई थी टीम

दरअसल मामला जम्मू के बागे-बाहु पुलिस स्टेशन का है जहां दर्ज एक मवेशी तस्करी के मामले के मुख्य आरोपियों अली गुज्जर और कालू गुर्जर अदालत की सुनवाई में हाजिर नहीं हुए. इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कोर्ट ने दोनों आरोपियों को भगोड़ा घोषित कर पुलिस को दोनों आरोपियों को पेश करने के निर्देश दिए थे.

हमलावरों ने बनाया बंधक

कोर्ट के निर्देशों के बाद जम्मू पुलिस ने एक टीम बनाकर इन भगोड़ों की तलाश शुरू की. जैसे ही पुलिस टीम इन दोनों भगोड़ो के घर पहुंची तो इलाके में मौजूद लोगों ने पुलिस की टीम पर हमला कर दिया. इन लोगों में कुछ महिलाएं भी शामिल थीं. हमलावरों ने तीन पुलिसकर्मियों को बंधक बनाकर उनके साथ मारपीट की. उनके चुंगल से जैसे ही पुलिस की टीम ने वहां से निकलना चाहा तो लोगों ने उन पर पथराव करना शुरू कर दिया.

पुलिस ने दर्ज किया मामला

इस घटना में कांस्टेबल तारिक हुसैन, कांस्टेबल गिरधारी लाल और कांस्टेबल अशोक सिंह घायल हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है. वहीं, पुलिस ने करीब आधा दर्जन लोगों पर रास्ता रोकने, हत्या का प्रयास करने, सरकारी कर्मी के कामकाज में दखल देने और पथराव करने समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है. जम्मू पुलिस के मुताबिक हमलावरों की पहचान कर ली गई है और उनकी धरपकड़ के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. पुलिस ने दावा किया है कि जल्द ही सभी आरोपियों को दबोच लिया जाएगा.