सांबा में बावली का पानी पीने से 35 ग्रामीण हुए बीमार, घोड़ों-खच्चरों पर अस्पताल पहुंचाया

जिला में कोरोना वायरस के दिन प्रतिदिन बढ़ते मामलों से पहले ही यहां के लोग चिंता में हैं, एेसे में पहाड़ी क्षेत्र के गांव दाबनू में उस समय अफरातफरी मच गई जब अधिकतर लोगों को पेट में दर्द के साथ दस्त, उल्टियां होने लगीं। सांबा से लगभग 25 किलोमीटर दूर गांव दाबनू में अचानक बीमार हुए 35 लोगों की वजह से अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया। आनन-फानन में बीमार लोगों को घोड़ों-खच्चरों से करीब पांच किलोमीटर पहाड़ी रास्ते से पीएचसी सुंब पहुंचाया गया।

गांव की निवासी पुष्पा देवी ने बताया कि अचानक उनका पेट खराब होने लगा। इसी तरह से कमलजीत ने बताया कि पहले पेट में दर्द शुरू हुआ। दर्द सहन नहीं हो रहा था। इसी तरह गांव के चरणजीत सिंहए बंधना देवी, प्रिया, दलेर सिंह, राज कुमारी, पुरषोतम सिंह, बल¨वदर सिंह, वीना देवी जिन्हें प्राइमरी हेल्थ सेंटर सुंब लाया गया। इन सभी ने बताया कि सभी के पेट में दर्द, दस्त व उल्टियां शुरू हो गईं। जैसे-तैसे दस मरीज सुंब पहुंचे, जबकि बहुत सारे गांव में ही दर्द के कारण कहरा रहे थे। उसके पश्चात सुंब से स्वास्थ्य कर्मियों की टीम को गांव दाबनू के लिए भेज दिया गया। स्वास्थ्य कर्मियों ने वहां जाकर उन बीमार लोगों का उपचार गांव में ही शुरू कर दिया। गांव के लोगों ने बताया कि क्षेत्र में जल शक्ति विभाग द्वारा पानी की सप्लाई कभी कभार ही की जाती है।