ईडी ने जम्मू में रियल स्टेट कंपनी पर मारा छापा, 25 करोड़ रुपये की एफडी जब्त

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एक रियल एस्टेट कंपनी के खिलाफ विदेशी मुद्रा उल्लंघन मामले के सिलसिले में सोमवार को छह स्थानों पर तलाशी ली और 25 करोड़ रुपये की सावधि जमा (एफडी) की पावती रसीद तथा 16 लाख रुपये के सरकारी स्वर्ण बॉंड जब्त किये। जांच एजेंसी के प्रवक्ता ने यह जानकारी दी। प्रवक्ता के मुताबिक जम्मू में राजेश राठौर और मोहम्मद अशरफ शेख के आवासीय तथा उनकी कंपनियों के वाणिज्यिक ठिकानों पर तलाशी ली गई। एक प्रवासी भारतीय द्वारा अवैध रूप से भूमि खरीदने से जुड़े मामले के सिलसिले में यह कार्रवाई की गई। प्रवक्ता ने एक बयान में बताया कि तलाशी के दौरान 25 करोड़ रुपये की सावधि जमा (एफडी) की पावती रसीद तथा 16 लाख रुपये के सरकारी स्वर्ण बॉंड जब्त किये।तलाशी में क्रिप्टो करेंसी में निवेश और दुबई में शेख द्वारा करीब 2.5 करोड़ रुपये के विदेशी निवेश से जुड़े दस्तावेज भी जब्त किये गये। शेख प्रापर्टी डीलर और कमीशन एजेंट है। ईडी ने फेमा के तहत बालकृष्ण राठौर, राजेश राठौर और अन्य के खिलाफ जांच शुरू की। जांच के दौरान यह पाया गया कि प्रवासी भारतीय राठौर ने कृषि भूमि खरीदी और जम्मू में 8 बाउंड्रीज बिल्डर्स प्रा लि नाम की एक कंपनी के जरिये उस पर साफा वैली के नाम से एक बहुमंजिला इमारत बनाई। उसने परियोजना के लिए इस कंपनी में दुबई से काफी मात्रा में रकम लगायी।