कोरोना से लड़ने के लिए जम्मू पुलिस ने किया ‘कोरोना सेना’ का गठन, सामुदायिक पुलिसिंग के तहत उठाया कदम

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए जम्मू पुलिस ने ‘कोरोना सेना’ का गठन किया है. कोरोना वायरस से लड़ने के लिए जम्मू पुलिस ने यह कदम सामुदायिक पुलिसिंग के तहत उठाया है. जम्मू पुलिस ने लोगों के बीच कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने और लोगों को इस संक्रमण से बचाने के लिए जरूरी एहतियात समझने के लिए कोरोना सेना का गठन किया है.

इस सेना में गांव के उन युवाओं को शामिल किया गया है जिनका उस गांव के चुने हुए पंचों या सरपंचों ने चयन किया है. जम्मू की नगरोटा सब डिवीज़न ने अब तक तीन गांव में यह प्रयोग किया है. जिसमें करीब 70 युवकों को इस सेना में भर्ती किया गया है. यह युवक अपने-अपने गांव में लोगों को कोरोना वायरस से लड़ने के लिए जागरूक करने के साथ ही अपने अपने गांव में पहरा देकर किसी भी बाहरी व्यक्ति को गांव में आने नहीं दे रहे.

नगरोटा के खानपुर इलाके के पंच मोहम्मद सीदीक अपने इलके में ऐसी ही एक कोरोना सेना की देखरेख कर रहे हैं. उनके मुताबिक वो अपने गांव के युवकों के साथ पूरे गांव में पहरा दे रहे हैं ताकि गांव में कोई बाहरी व्यक्ति ना आये और अगर कोई ऐसा व्यक्ति आता है तो उसकी जानकारी पुलिस को दी जाती है.

इसके साथ ही यह सेना पुलिस के साथ मिलकर गांव के लोगों को इस बीमारी से बचने के उपाय भी घर-घर जाकर बताती है. यह लोग ना केवल अपने गांव को सुरक्षित कर रहे हैं बल्कि पहरा देकर गांव की दिन रात पहरेदारी भी कर रहे हैं.